11 महीने बाद सीबीआइ ने दर्ज किया मामला

11 महीने बाद सीबीआइ ने दर्ज किया मामला

Rajendra Shekhar Vyas | Publish: Nov, 23 2018 11:03:24 PM (IST) | Updated: Nov, 23 2018 11:03:25 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

अजिताभ गुमशुदगी प्रकरण

बेंगलूरु. शहर से सूचना तकनीक पेशेवर कुमार अजिताभ (30) के रहस्मयी तरीके से लापता होने के मामले में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआइ) के विशेष अपराध शाखा ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है। अजिताभ 11 महीने पहले लापता हुआ था और पुलिस उसका पता नहीं लगा पाई। कर्नाटक उच्च न्यायालय ने मामले की जटिलता को देखते हुए पिछले महीने इसकी जांच सीबीआइ को सौंपने के आदेश दिए थे। अजिताभ पिछले 18 दिसम्बर 2017 से ही लापता है। उसने अपना कार बेचने के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कराया था और इसी सिलसिले में किसी संभावित खरीदार का फोन आने पर वह घर से निकला था। वह घर से निकलने के बाद से ही लापता है। 10 महीने की दौरान पुलिस और अपराध अनुसंधान विभाग की कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगने के बाद अजिताभ के पिता ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया और जांच सीबीआई को सौंपने की अपील की थी। अदालत ने 22 अक्टूबर को मामले की जांच सीबीआइ को सौंपने के निर्देश दिए थे। पिछले सप्ताह सीबीआइ को मामले के दस्तावेज पुलिस ने सौंपे थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned