scriptCelebrated 97th Diksha Diksha of Acharya Tulsi | आचार्य तुलसी का 97 वां दीक्षा दिवस मनाया | Patrika News

आचार्य तुलसी का 97 वां दीक्षा दिवस मनाया

हनुमतनगर तेरापंथ भवन में आयोजन

बैंगलोर

Published: December 25, 2021 07:00:45 am

बेंगलूरु. हनुमतनगर तेरापंथभवन में साध्वी लावण्यश्री के सान्निध्य में तेरापंथ के नवें अधिशास्ता आचार्य तुलसी का 97 वां दीक्षा दिवस मनाया गया। साध्वी लावण्यश्री ने कहा कि मात्र 11 वर्ष की अल्प आयु में गुरु के चरणों में अपना सर्वस्व समर्पण करने वाले बालक का नाम तुलसी। 11 वर्ष तक गुरु के संरक्षण में रह अपना चहुंमुखी विकास करने वाले थे मुनि तुलसी। बचपन से ही स्वच्छता प्रेमी निर्भीक, मजबूत, दृढ़ संकल्पी, मजबूत मनोबल, आत्मबल के धनी बालक तुलसी के शुभ भविष्य को गुरु कालूगणी ने परख लिया। मात्र 22 वर्ष की उम्र में गुरु ने अपने युवा शिष्य तुलसी को आचार्य पद का दायित्व दिया। ज्योंही यह दायित्व मिला लोग कहने लगे उतना छोटा युवक क्या इतने बड़े संघ पर शासन कर लेगा। तब मंत्री मुनि मगनलाल स्वामी ने कहा आचार्य तुलसी 22 वर्ष के नहीं 82 वर्ष के हैं। कैसे,आचार्य कालगणी के 60 वर्ष का अनुभव और 22 वर्ष आचार्य तुलसी के दोनों के मिलाकर 82 वर्ष 760 वर्ष तक तेरापंथ के नवें अधिशास्ता के रूप में आचार्य तुलसी ने तेरापंथ धर्मसंघ के भंडार को भरा। अपना पूरा जीवन साधु-साध्वी, श्रावक-श्राविकाओं के निर्माण में जन-जन का जीवन नैतिक बनाने के लिए लगा दिया तभी वह क्रांन्तिकारी आचार्य के रूप में प्रसिद्धि पाई। साध्वी सिदांतश्री ने कहा-आज 52 वर्ष पहले इसी फूलों की नगरी में साध्वी लावण्यश्री को आचार्य तुलसी के कर कमलों से दीक्षित होने का अवसर मिला। मुमुक्षु लीला लावण्य बनाकर साध्वी संयम रूपी रत्न प्रदान किया। दक्षिण की धरती पर आपके पदार्पण के बाद बहुत जागृति आई। साध्वी सिद्धान्तश्री, साध्वी धैर्यप्रभा, साध्वी दर्शितप्रभा ने तुलसी तुलसी तुलसी प्राणा र प्यागे गीत की प्रस्तुति दी। युवक परिषद अध्यक्ष धर्मेश कोठारी ने विचार व्यक्त किए। महिला मंडल ने गीत की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर सभा अध्यक्ष तेजमल सिंघवी, निवर्तमान अध्यक्ष पवन बोथरा मंत्री महावीर कटारिया, महिला मंत्री मोनिका गादिया उपस्थित रहे।
आचार्य तुलसी का 97 वां दीक्षा दिवस मनाया
आचार्य तुलसी का 97 वां दीक्षा दिवस मनाया
आचार्य तुलसी का 97 वां दीक्षा दिवस मनायाआचार्य तुलसी-दीक्षा दिवस
बेंगलूरु. जैन स्थानक में विराजित साध्वी कंचनप्रभा के सान्निध्य में तेरापंथ धर्मसंघ के नवें अधिशास्ता आचार्य तुलसी का 96 वां दीक्षा दिवस मनाया गया। साध्वी कंचनप्रभा, साध्वी मंजुरेखा ने कहा आचार्य तुलसी की प्रेरणा व आशीर्वाद था कि तेरापंथ धर्मसंघ में अनेक साधु-साध्वी संस्कृत, प्राकृत, अंग्रेजी आदि विविध भाषा के अधिकृत विद्वान रचनाकार बने। साध्वी उदितप्रभा, साध्वी निर्भयप्रभा, साध्वी चेलनाश्री ने आचार्य तुलसी के महान व्यक्तित्व व कृतित्व पर विचार रखे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

Corona cases in india: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2.51 लाख केस, 627 की मौत, नए मामलों में 12% की कमीUP Assembly Elections 2022 : अमित शाह की अखिलेश यादव को खुली चुनौती, बोले- अगर हमारे मुकाबले 10 फीसदी भी काम किया तो जवाब देंटाटा की Air India आज से भरेगी उड़ान, इस तरह करेंगे यात्रियों का स्वागतRRB-NTPC: छात्र संगठनों का आज बिहार बंद का ऐलान, महागठबंधन ने भी किया समर्थन, पड़ोसी राज्यों में अलर्टSC-ST को प्रमोशन में आरक्षण के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आजरीट परीक्षा में बड़ा खुलासा: दो करोड़ रुपए में सौदा, शिक्षा संकुल से ही हुआ था पेपर लीकAccident on Highway : हादसे में गई परिवार के चार लोगों की जान,कोहरा बना कालCG Board Exam 2022: बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए बड़ी खबर, 31 जनवरी से आगे बढ़ सकती है प्रैक्टिकल परीक्षा की तारीख, ये है वजह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.