scriptCenter gives green signal to AIIMS in Karnataka | कर्नाटक में एम्स को केंद्र सरकार की हरी झंडी | Patrika News

कर्नाटक में एम्स को केंद्र सरकार की हरी झंडी

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के आभारी

बैंगलोर

Published: May 24, 2022 11:31:17 pm

Karnataka में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का रास्ता साफ हो गया है। स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. के. सुधाकर ने कहा कि बुधवार को नई दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया के साथ हुई बैठक में उन्होंने राज्य में एम्स को हरी झंडी दी है।

कर्नाटक में एम्स को केंद्र सरकार की हरी झंडी
कर्नाटक में एम्स को केंद्र सरकार की हरी झंडी

डॉ. सुधाकर ने कहा कि राज्य में सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा और चिकित्सा शिक्षा के बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए उन्होंने राज्य में भी एक AIIMS शुरू करने के लिए केंद्र सरकार से अनुरोध किया था। अब जाकर केंद्र सरकार ने एम्स का आश्वासन दिया है। इसके लिए वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के आभारी हैं। इससे राज्य को बहुत लाभ होगा और राज्य की स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा में और वृद्धि होगी।

निम्हांस पॉली ट्रॉमा सेंटर और पीजी संस्थान का प्रस्ताव
सुधाकर ने बुधवार को कहा कि एक नए National Institute of Mental Health and Neurosciences (निम्हांस) पॉली ट्रॉमा सेंटर और पीजी संस्थान के लिए स्थाई वित्त समिति (एसएफसी) को विस्तृत परियोजन रिपोर्ट सौंपी गई है। एक बार मंजूरी मिलने के बाद नया संस्थान बेंगलूरु में हेणूर मेन रोड के पास क्यालासनहल्ली में बनेगा। 538 बिस्तर वाले इस संस्थान के निर्माण में करीब 489 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसे बनने में करीब तीन वर्ष लगेंगे।

डॉ. सुधाकर ने कहा कि प्रारंभ में राज्य सरकार ने 2021 में एक मेडिकल कॉलेज के निर्माण के लिए एसएफसी को एक प्रस्ताव भेजा था। उस समय एसएफसी ने पीजी प्रशिक्षण में निम्हांस की विशेषज्ञता पर ध्यान देने सलाह दी थी।

डॉ. सुधाकर ने बताया कि उन्होंने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को लिखे पत्र में राज्य में स्वास्थ्य सेवा में सुधार के लिए कई सुझाव भी दिए हैं। नर्सिंग और संबद्ध स्वास्थ्य विज्ञान के लिए अलग से राज्य स्तरीय विश्वविद्यालय, अस्पतालों के प्रशासन के लिए पीपीपी मॉडल, अस्पताल प्रबंधन में सेवारत चिकित्सकों के लिए विशेष पाठ्यक्रम व प्रशिक्षण, डीम्ड विश्वविद्यालयों में डोमिसाइल छात्रों को प्राथमिकता इन सुझावों में शामिल हैं।

डॉ. सुधाकर ने राज्य विशिष्ट और क्षेत्र विशिष्ट स्वास्थ्य चुनौतियों के समाधान के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में लचीलापन के अलावा प्रदेश के सभी जिलों में मेडिकल कॉलेज स्थापित करने के लिए केंद्र सरकार की मदद मांगी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Mumbai News Live Updates: कल देवेंद्र फडणवीस सीएम और एकनाथ शिंदे डिप्टी सीएम पद की लेंगे शपथMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे पर नरोत्तम मिश्रा ने दिया बड़ा बयान, कहा- महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा का दिखा प्रभावप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने MSME के लिए लांच की नई स्कीम, कहा- 18 हजार छोटे करोबारियों को ट्रांसफर किए 500 करोड़ रुपएDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनउदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोलाUdaipur Murder: उदयपुर में हिंदू संगठनों का जोरदार प्रदर्शन, हत्यारों को फांसी दो के लगे नारेजम्मू-कश्मीर: बालटाल से अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना, पवित्र गुफा में बाबा बर्फानी का करेंगे दर्शनपटना के हथुआ मार्केट में लगी भीषण आग, कई दुकानें जलकर खाक, करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.