scriptChanging the name is the only achievement of the govt: Siddaramaiah | नाम बदलना ही सरकार की एकमात्र उपलब्धि: सिद्धरामय्या | Patrika News

नाम बदलना ही सरकार की एकमात्र उपलब्धि: सिद्धरामय्या

  • कहां है तीन हजार करोड़ का अनुदान
  • नेता प्रतिपक्ष का तंज

बैंगलोर

Published: December 25, 2021 05:42:10 pm

बेलगावी. राज्य सरकार कल्याण कर्नाटक की लगातार अनदेखी कर रही है। जिसके परिणाम स्वरुप अभी भी इस क्षेत्र का अपेक्षित विकास नहीं हो रहा है। इस क्षेत्र का नाम भले कल्याण कर्नाटक है लेकिन इस क्षेत्र को अभी भी वास्तविक कल्याण का इंतजार है। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सिद्धरामय्या (Former Karnataka chief minister and Leader of Opposition Siddaramaiah) ने यह बात कही।
siddharamaiah_12.jpg
विधानसभा (Karnataka Assembly) में नियम 69 के तहत चली बहस में भाग लेते हुए उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र का नाम कल्याण कर्नाटक रख दिया है ( Hyderabad-Karnataka to Kalyana Karnataka) लेकिन केवल नाम बदलने से इस क्षेत्र का कोई कल्याण नहीं हुआ है। लिहाजा इस क्षेत्र का नाम बदलना तथा कल्याण कर्नाटक विकास प्राधिकरण को अध्यक्ष नियुक्त करना ही इस सरकार की एक मात्र उपलब्धि है।
‘ऊंट के मुंह में जीरा’ के बराबर अनुदान

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कल्याण कर्नाटक क्षेत्र को 3 हजार करोड़ रुपए का अनुदान देने का वादा किया था। लेकिन अभी तक केवल 378 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। जो ‘ऊंट के मुंह में जीरे’ के बराबर है। इतने अल्प अनुदान से इस क्षेत्र का विकास कैसे होगा इस सवाल का जवाब मुख्यमंत्री को देना होगा।
साथ में इन जिलों के विभिन्न प्रशासनिक विभागों के रिक्त पद भरने का वादा भी पूरा नहीं किया गया है।
उन्होंने कहा कि उनकी सरकार की कार्यकाल के दौरान संविधान की धारा 371 जी के तहत इस क्षेत्र में 30 हजार पदों पर नियुक्तियां की गई थीं। लेकिन भाजपा सरकार के कार्यकाल में यहां नियुक्तियां नहीं हो रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: इंडिया गेट पर लगेगी नेताजी की भव्य प्रतिमा, पीएम करेंगे होलोग्राम का अनावरणAssembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारPunjab Election 2022: भगवंत मान का सीएम चन्नी को चैलेंज, दम है तो धुरी सीट से लड़ें चुनाव20 आईपीएस का तबादला, नवज्योति गोगोई बने जोधपुर पुलिस कमिश्नरइस ऑटो चालक के हुनर के फैन हुए आनंद महिंद्रा, Tweet कर कहा 'ये तो मैनेजमेंट का प्रोफेसर है'खुशखबरी: अलवर में नया सफारी रूट शुरु हुआ, पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.