गठबंधन सरकार में मुख्यमंत्री का पद रिक्त नहीं: मोइली

गठबंधन सरकार में मुख्यमंत्री का पद रिक्त नहीं: मोइली

Shankar Sharma | Publish: Sep, 02 2018 10:30:22 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

गठबंधन सरकार के गठन से पहले ही कांग्रेस आलाकमान ने मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी को पांच वर्षों के लिए समर्थन देने का वादा किया है।

चिकबल्लापुर. गठबंधन सरकार के गठन से पहले ही कांग्रेस आलाकमान ने मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी को पांच वर्षों के लिए समर्थन देने का वादा किया है। लिहाजा कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन सरकार में अगले पांच वर्षों के लिए मुख्यमंत्री का पद रिक्त नहीं है।


पूर्व केंद्रीय मंत्री व स्थानीय सांसद डॉ. एम. वीरप्पा मोइली ने यह बात कही। शनिवार को जिले के नंदी हिल्स पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री ने सिद्धरामय्या पर निशाना साधते हुए कहा कि जब मुख्यमंत्री का पद ही रिक्त नहीं है, तब मुख्यमंत्री बनने का बयान देना अतार्किक है। अब किसी भी नेता का मुख्यमंत्री बनने का बयान ही अप्रासंगिक है।


उल्लेखनीय है जिले के कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. सुधाकर ने पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या के पुन: मुख्यमंत्री बनने के बयान का समर्थन किया था। इस परिप्रेक्ष में मोइली ने यह बयान देकर जिले के अन्य कांग्रेस नेताओं को आईना दिखाया है।


उधर, बेंगलूरु में राजस्व मंत्री आरवी देशपांडे ने कहा कि वे मुख्यमंत्री पद की दौड़ में नहीं हैं। देशपांडे ने कहा कि वे पद के अभी इच्छुक नहीं हैं।

मुख्यमंत्री के राहत कोष में जमा हुए 138 करोड़
बेंगलूरु. कोडुगू तथा तटीय कर्नाटक के बाढ़ प्रभावितों के पुनर्वास के लिए राज्य के विभिन्न स्वयंसेवी संगठन, उद्यमी तथा आम जनता ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अभी तक 138 करोड़ रुपए जमा किए हैं। राज्य सरकार की अपील पर लोगों ने संवेदनशीलता का परिचय देते हुए इस कोष में सहायता राशि जमा की है।


शनिवार को मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी ने जानकारी दी और कहा कि प्रतिदिन इस कोष में लोग सहायता राशि जमा कर रहे हैं। शहर में आदिचुंचनगिरी मठ की ओर से विजयनगर क्षेत्र में सहायता राशि संग्रहण के लिए रविवार को आयोजित पदयात्रा में वे कुछ समय के लिए भाग लेने जा रहे हैं। इस कोष में राज्य के शृंगेरी तथा शारदा पीठ से 22 लाख रुपए की सहायता राशि जमा हुई है।


देवनहल्ली के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों ने वहां जुलूस निकाल कर संग्रहित 4 लाख रुपए की राशि कोष में जमा की है। एनजीईएफ कर्मचारी संघ की ओर से 1 लाख तथा सिद्धगट्टे गांव के निवासियों ने 20 हजार रुपए इस कोष में जमा किए हैं।

Ad Block is Banned