केरल से सटी राज्य की सीमा पर कड़ी निगरानी

  • जिला प्रभारी मंत्री सोमशेखर ने लिया जायजा

By: Santosh kumar Pandey

Published: 22 Apr 2021, 03:37 PM IST

मैसूरु. पडोसी केरल राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या में हो रही वृद्धि को देखते हुए केरल से कर्नाटक पहुंच रहे लोगों के लिए आरटीपीसीआर की रिपोर्ट निगेटिव होना अनिवार्य है। इस रिपोर्ट के आधार पर ही लोगों को राज्य में प्रवेश दिया जा रहा है। जिला प्रभारी तथा सहकारिता मंत्री एसटी सोमशेखर ने यह बात कही।

केरल से सटे सीमाक्षेत्र में स्थापित चेकपोस्ट का दौरा करने के पश्चात उन्होंने कहा कि चेकपोस्ट के माध्यम से राज्य में प्रवेश कर रहे लोगों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। जिनके पास कोरोना संक्रमण की निगेटिव रिपोर्ट नहीं है ऐसे लोगों को वापस भेजा जा रहा है। कड़ी निगरानी के परिणाम स्वरुप सीमावर्ती क्षेत्र में केरल से आनेवाले वाहनों की संख्या में काफी कमी आई है।

चेकपोस्ट पर ही जांच की व्यवस्था

उन्होंने कहा कि चेकपोस्ट से अभी प्रतिदिन 150-200 वाहनों की आवाजाही हो रही है। पहले ऐसे वाहनों की संख्या 700-800 थी। जो लोग बगैर परीक्षण यहां पहुंच रहे हैं ऐसे लोगों के लिए यहां चेकपोस्ट के पास ही कोरोना संक्रमण के परीक्षण की व्यवस्था की गई है।

किसानों की भी जांच

उन्होंने कहा कि मैसूरु तथा चामराजनगर जिलों के किसान इसी संपर्क सडक़ से सब्जियां लेकर केरल जाते हैं। ऐसे किसानों का भी परीक्षण किया जा रहा है। मैसूरु जिले में लोग प्रशासनिक दिशा-निर्देशों का पालन करने में सहयोग कर रहे हैं जिसके परिणाम स्वरूप जिले में दिशा-निर्देशों के उल्लंघन के मामले अधिक नहीं हंै।

मैसूरु में 5 लाख 70 हजार लोगों का टीकाकरण

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि टीकाकरण के लिए मैसूरु जिले को 8 लाख 75 हजार टीकाकरण का लक्ष्य दिया गया था अभी तक जिले में 5 लाख 70 हजार लोगों का टीकाकरण किया गया है। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि जिले में वैक्सीन या रेमडेसिविर इंजेक्शन की कोई कमी नहीं है।

केवल राजनीति के लिए विरोध

हाल में राज्यपाल वजूभाई वाळा की उपस्थिति में की गई वर्चुअल सर्वदलीय बैठक पर कांग्रेस नेताओं की आपत्ति को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि केवल कर्नाटक में ही नहीं देश के सभी राज्यों के राज्यपालों ने ऐसी बैठकें की हैं। कांग्रेस के नेता केवल राजनीतिक विरोध के लिए ऐसी बातों को हवा दे रहे हैं।

COVID-19 virus
Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned