सीएम बोले,बैंकों के आंकड़े नहीं देने के कारण ऋण माफी में देरी

सीएम बोले,बैंकों के आंकड़े नहीं देने के कारण ऋण माफी में देरी

Shankar Sharma | Publish: Oct, 14 2018 12:38:59 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

राज्य सरकार राष्ट्रीयकृत वाणिज्य बैंको में किसानों के बकाया ऋण के भुगतान को तैयार है लेकिन बैंक आंकड़े उपलब्ध नहीं करा रहे हैं।

बेंगलूरु. राज्य सरकार राष्ट्रीयकृत वाणिज्य बैंको में किसानों के बकाया ऋण के भुगतान को तैयार है लेकिन बैंक आंकड़े उपलब्ध नहीं करा रहे हैं। मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने गुरुवार ने प्रदेश के भाजपा नेताओं से अपील की कि वे केंद्र सरकार पर बैंकों को आंकड़े उपलब्ध कराने के लिए कहें ताकि ऋण माफी योजना लागू हो सके।

कुमारस्वामी ने कहा कि बैंकों ने अब तक आंकड़े नहीं दिए हैं, जिससे साफ है कि इसके पीछे राजनीति हो रही है। कुमारस्वामी ने आरोप लगाया कि भाजपा के नेता ही इसमें अडंगा डाल रहे हैं। इस कारण ऋण माफी का लाभ किसानों को नहीं मिल रहा है। मुख्यमंत्री एच.डी.कुमारस्वामी ने यह बात कही।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के भाजपा नेता केंद्र सरकार पर किसानों की ऋण माफी योजना में सहयोग नहीं देने का दवाब बना रहे हंै। राज्य सरकार अपना दायित्व निभाते हुए 1 नवंबर को किसानों की ऋण की पहली किश्त के रूप में 6500 करोड़ रुपए का भुगतान करने को तैयार है लेकिन राष्ट्रीयकृत बैंक भाजपा नेताओं के दबाव में आकर इसे स्वीकृत करने को तैयार नहीं है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने कई बार इन बैंकों के प्रबंधन से बकाया ऋण की सूची मांगी है। लेकिन बैंकों ने अभी तक सूची नहीं सौंपी है। यह सूची प्राप्त करने के लिए उन्होंने वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों का एक विशेष दल ही गठित किया है। यह दल बैंकों से यह सूची प्राप्त करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है। सूचना के अधिकार के तहत भी ऐसी जानकारी प्राप्त करने का प्रयास किया लेकिन बैंकों का प्रबंधन राज्य सरकार के साथ सहयोग नहीं कर रहा है। किसानों की ऋण माफी योजना को लेकर आयोजित पहली बैठक में राष्ट्रीयकृत बैंकों का प्रबंधन का रुख काफी सकारात्मक था लेकिन अब वे योजना की अनदेखी कर रहा है।


उन्होंने कहा कि सहकारिता क्षेत्र की बैंकों से लिया 2 लाख रुपए तक का ऋण माफ योजना की प्रक्रिया जारी है। केंद्र सरकार ने सरकार की इस ऋणमाफी योजना के लिए एक रुपए की भी सहायता नहीं की है।

सेवानिवृत प्रशासनिक अधिकारी को मंड्या से उतारेगी भाजपा
बेंगलूरु. भाजपा मण्ड्या लोकसभा उपचुनाव में एक पूर्व नौकरशाह को उतारेगी। गुरुवार को पार्टी में शामिल होने के साथ ही भाजपा ने उक्त अधिकारी को टिकट देने की भी घोषणा कर दी। भारतीय राजस्व सेवा के सेवानिवृत अधिकारी डॉ सिद्धरामय्या गुरुवार भाजपा में शामिल हुए। उनके पिता दोड्डबोरे गौड़ा मंड्या तथा श्रीरंगपट्टण क्षेत्र के विधायक थे।

Ad Block is Banned