रेमडेसिविर की कालाबाजारी पर सीएम सख्त, अधिकारियों को लगाई फटकार

  • जांच रिपोर्ट आने पर होगी कड़ी कार्रवाई
  • पूछा, जब राज्य में दवा की कमी है तो कालाबाजारी कैसे?

By: Rajeev Mishra

Published: 05 May 2021, 02:50 AM IST

बेंगलूरु. राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों को फटकार लगाते हुए मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने कहा कि कोविड-19 उपचार में इस्तेमाल की जाने वाली रेमडेसिविर दवा की कालाबाजारी के आरोपों की जांच के लिए समिति गठित की गई है और इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।

रेमडेसिविर की उपलब्धता को लेकर मुख्यमंत्री ने मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान कुछ अधिकारियों ने उन्हें सूचित किया कि इस दवा की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की गई है। लेकिन, इन दावों के विपरीत येडियूरप्पा ने अधिकारियों पर बरसते हुए कहा कि कि उन्हें खुफिया और पुलिस विभाग से पहले ही रिपोर्ट मिल चुकी है कि स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में ऊपर से नीचे तक के कई अधिकारी कालाबाजारी में लिप्त हैं।

सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री ने कहा 'मेरी जानकारी और प्राप्त रिपोर्टों के अनुसार, काफी दवाइयां ब्लैक में बेची जा रही हैं और यहां तक कि दूसरे राज्यों में भी भेजी जाती हैं। आप (अधिकारी) इसे ढंकना चाहते हैं और ऐसा दिखा रहे हैं जैसे आप इसके बारे में जानते ही नहीं हैं। मैं इस पूरे मामले की व्यापक जांच का आदेश देने जा रहा हूं और आपको (अधिकारियों को) परिणाम भुगतने होंगे।Ó उन्होंने कहा कि जो रिपोर्ट उन्हें मिली है उसमें कहा गया है कि सिर्फ एक या दो नहीं बल्कि कई कर्मचारी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और राज्य को आपूर्ति की गई रेमडेसिविर दवाइयों का दुरुपयोग किया गया। ऐसे समय में जब लोग पीडि़त हैं अधिकारीगण व्यवस्था का दुरुपयोग करते हुए भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। जांच रिपोर्ट के साथ जब सच्चाई सामने आएगी तो किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा।
हालांकि, एक अधिकारी ने यह दावा करते हुए कि समस्या के हल के लिए सभी अधिकारी दिन-रात काम कर रहे हैं अपने विभाग के बचाव की कोशिश की जिसपर मुख्यमंत्री और भड़क गए। उन्होंने कहा 'क्या मैं आप पर ओवरटाइम नहीं करने का आरोप लगा रहा हूं? मैं पूछ रहा हूं कि दवा की कालाबाजारी कैसे हो रही है जबकि राज्य इसकी कमी से जूझ रहा है। रेमडेसिविर ब्लैक मार्केट में बेची जा रही है। कौन जिम्मेदार है इसके लिए?Ó

Rajeev Mishra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned