हर तहसील में स्थापित होंगे शीतगृह

बागवानी उपजों के भंडारण के लिए मौजूदा केवल जिला मुख्यालयों में स्थापित शीतगृह पर्याप्त नहीं है। राज्य की सभी तहसीलों में शीघ्र ही शीतगृह स्थापित किए जाएंगे।कृषि मंत्री बीसी पाटिल ने यहां जिला पंचायत कार्यालय में जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों से कृषि गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की।

By: Sanjay Kulkarni

Published: 23 Apr 2020, 10:12 AM IST

तुमकूरु. बागवानी उपजों के भंडारण के लिए मौजूदा केवल जिला मुख्यालयों में स्थापित शीतगृह पर्याप्त नहीं है। राज्य की सभी तहसीलों में शीघ्र ही शीतगृह स्थापित किए जाएंगे।कृषि मंत्री बीसी पाटिल ने यहां जिला पंचायत कार्यालय में जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों से कृषि गतिविधियों की जानकारी प्राप्त की।

उन्होंने कहा कि किसानों ने बागवानी उपजों के भंडारण की समस्या बताई है। हर किसान को शीतगृह के उपयोग के लिए जिला मुख्यालय तक आना संभव नहीं है। लिहाजा तहसील मुख्यालयों पर ही शीतगृहों का निर्माण किया जाएगा।हावेरी जिले में नकली बीज के कारोबार के बारे में उन्होंने कहा कि रानीबेन्नूर तहसील की वेंकटेश्वर एग्रो ट्रेडर्स कंपनी का परमिट निरस्त कर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

बल्लारी जिले के हुविनहडगली तहसील में किसानों को नकली बीज की आपूर्ति कर रही कंपनी के खिलाफ अपराधिक मामला दर्ज किया गया है। कोलार चिकबल्लापुर तथा मैसूर जिले के कृषि अधिकारियों को ऐसे केंद्रों पर छापे मार कर इस धोखाधड़ी का पर्दाफाश किया है।किसानों के लिए खाद तथा बीज की पर्याप्त मात्रा में भंडारण है। किसी भी जिले में आपू्र्ति की समस्या नहीं होगी। उन्होंने कहा कि वर्ष 2016 की फसल बीमा योजना के लिए केंद्र सरकार ने 18 लाख 59 किसानों के शेयर के लिए 1 करोड़ 13 लाख रुपए जारी किए हैं। कई बैंक केंद्र सरकार से किसानों के खातों में विभिन्न योजनाओं के तहत जमा हो रही राशि किसानों के ऋण तथा ब्याज खाते में जमा कर रहे हैं। ऐसे बैंकों की सूची केंद्र सरकार को सौंप कर ऐसा नहीं करने की मांग की गई है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned