जुड़वां बालमुनियों का शतावधान देश भर से मिली शुभकामनाएं

जुड़वां बालमुनियों का शतावधान देश भर से मिली शुभकामनाएं

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Nov, 29 2018 07:02:43 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

समाज में आदर्श स्थापित करेगा बाल मुनि का यह प्रयास

 

 

बाल शतावधान श्रद्धालुओं के आध्यात्मिक उन्नयन का प्रभावी माध्यम बनेगा

बेंगलूरु. मेडिटेशन रिसर्च फाउण्डेशन व नाकोड़ा पाश्र्वनाथ श्वेताम्बर मंदिर ट्रस्ट राजाजीनगर के तत्वावधान में आगामी 2 दिसम्बर को बेंगलूरु में दस भाषाओं में प्रवचन के साथ बाल शतावधान का प्रयोग करने जा रहे 10 वर्षीय ट्विंस बाल मुनि नमिचंद्रसागर व नेमीचंद्रसागर को राष्ट्रपति सहित देशभर से विशिष्टजनों की ओर से अग्रिम शुभकामनाएं मिल रही हैं।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रसन्नता जताते हुए बाल शतावधान की सफलता की कामना की। मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने शतावधान को कठिन साधना का प्रतीक बताते हुए कहा कि बाल मुनि का यह प्रयास समाज में आदर्श स्थापित करेगा। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी ने सफल आयोजन की शुभकामनाएं दी। हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्यदेवव्रत ने बधाई देते हुए विश्वास जताया कि बालमुनियों की आध्यात्मिक शक्ति विश्व कल्याण की दिशा में कारगर सिद्ध होगी। असम के राज्यपाल जगदीश मुखी, राजस्थान के राज्यपाल कल्याणसिंह ने शुभकामनाएं दी।
उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बाल शतावधान श्रद्धालुओं के आध्यात्मिक उन्नयन का प्रभावी माध्यम बनेगा। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ट्विंस बालमुनि को ऊंची प्रतिभा का धनी बताया। गुजरात के मुख्यमंत्री विजयरुपाणी ने कहा कि बाल शतावधान भारत के इतिहास में स्वर्णपृष्ठ के समान होगा। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आशा जताई कि शतावधान प्रयोग का प्रदर्शन नई पीढ़ी के लिए प्रेरणादायक सिद्ध होगा। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने आयोजन के लिए हर्ष जताया। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्रसिंह रावत ने आयोजन में फाउण्डेशन के उद्देश्य सफलता की कामना की।
संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने देश की 10 भाषाओं के माध्यम से बाल शतावधान की सराहना की। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि यह आयोजन 21वीं सदी के युवाओं में जोश व आदर्श स्थापित करेगा। विज्ञान और प्रोद्यौगिकी मंत्री डॉ हर्षवद्र्धन ने कहा कि ट्विंस की विलक्षण प्रतिभा आश्चर्यजनक है। संस्कृति राज्यमंत्री महेश शर्मा ने आयोजन के लिए शुभकामनाएं दी। श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री संतोषकुमार गंगवार व वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ला ने आयोजन की सफलता के लिए कामना की। हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष कंवरपाल ने ट्विंस बालमुनि द्वारा सभी धर्मग्रंथों को कंठस्थ करने पर प्रशंसा जताई। गुजरात के शिक्षा मंत्री ने बालमुनियों को भारत की सम्पत्ति बताया। हरियाणा के शिक्षा मंत्री रमविलास शर्मा ने उम्मीद जताई कि यह आयोजन लोगों के लिए स्मरणशक्ति बढ़ाने को प्रेरित करेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned