कांग्रेस को फिर सत्ता मांगने का अधिकार नहीं: मुरलीधर राव

Shankar Sharma

Publish: Mar, 07 2018 11:25:54 PM (IST)

Bangalore, Karnataka, India
कांग्रेस को फिर सत्ता मांगने का अधिकार नहीं: मुरलीधर राव

जन संवाद बनाए रखने के लिहाज से बेंगलूरु बचाओ पदयात्रा निकाल रही भाजपा ने मंगलवार को चामराजपेट क्षेत्र में अभिययान को जारी रखा

बेंगलूरु. विधानसभा चुनावों के परिप्रेक्ष्य में जन संवाद बनाए रखने के लिहाज से बेंगलूरु बचाओ पदयात्रा निकाल रही भाजपा ने मंगलवार को चामराजपेट क्षेत्र में अभिययान को जारी रखा। इस दौरान भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधर राव ने कहा कि राज्य को भ्रष्ट तथा असंवेदनशील प्रशासन देने वाली सिद्धरामय्या के नेतृत्ववाली कांग्रेस सरकार को फिर एक बार जनादेश मांगने का अधिकार नहीं है।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव मुरलीधरराव ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि एक ओर मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या कर्नाटक के पूरे देश में एक नंबर पर होने के विज्ञापन दे रहें है, लेकिन वास्तव में देखा जाए तो कर्नाटक आज हत्या, लूट तथा भ्रष्टाचार के मामले में देश में पहले नंबर पर पहुंच गया है। कर्नाटक की इस स्थिति के लिए मौजूदा कांग्रेस सरकार जिम्मेदार है। प्रदेश कांग्रेस के कई नेताओं के पुत्र अपने अवैध कारोबार में लिप्त हैं, जिनके खिलाफ कार्रवाई करने में पुलिस कतरा रही है। ऐसे में राज्य में कानून-सुरक्षा लगातार गिरती जा रही है। बेंगलूरु, मैसूरु, मेंगलूरु जैसे शहरों में अपराध के मामले बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि शहर भाजपा की ओर से आयोजित इस पादयात्रा के दौरान यात्रा में शामिल कार्यकर्ताओं पर स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हमले किए हैं।

यह हमले कांग्रेस की बौखलाहट को साबित करते हैं। इस दादागिरी की कीमत कांग्रेस को चुकानी होगी। उन्होंने आगेे कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जहां भी चुनाव प्रचार करते हैं वहां कमल खिलता है। इसके विपरीत राहुल गांधी जहां प्रचार करते हैं, वहां कांग्रेस सत्ता से बेदखल हो जाती है। पूरे देश में कांग्रेस सिमट रही है। भाजपा के वरिष्ठ नेता आर अशोक ने कहा कि पादयात्रा के दौरान स्थानीय कांग्रेस के नेताओं ने मीडिया के सामने ही इस कार्यक्रम में शामिल कार्यकर्ताओं पर हमले किए हैं।

मुझे चुनौती देने का सिद्धू को नैतिक अधिकार नहीं
मैसूरु. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बी.एस. येड्डियूरप्पा ने कहा कि सिद्धरामय्या को उन्हें भ्रष्टाचार के मुद्दे पर खुली बहस के लिए आमंत्रित करने का नैतिक अधिकार नहीं है।


उन्होंने कहा कि कांग्रेस भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रही है और राज्य की संपत्ति लूट रही है, इसलिए सिद्धरामय्या को कोई अधिकार नहीं कि वे कांग्रेस तथा भाजपा के शासनकाल की तुलना करने के लिए मुझे खुली बहस में बुलाएं।


उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ने कांग्रेस के शासनकाल के दौरान हुई गड़बडिय़ों का खाका तैयार कर उसे पुस्तक का रूप दिया है, जो राज्य भर में लोगों को वितरित की जा रही है। यह कार्य विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भी जारी रहेगा।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned