शहरी निकाय चुनाव में कांग्रेस का पलड़ा भारी

शहरी निकाय चुनाव में कांग्रेस का पलड़ा भारी

Surendra Rajpurohit | Publish: Sep, 03 2018 08:39:30 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

एक नगर निगम में भाजपा की जीत, दो नगर निगमों में त्रिशंकु जनादेश
कुल 105 निकायों में कांग्रेस को 31, भाजपा को 30 व जद-एस को 14 में स्पष्ट बहुमत, 31 में किसी को स्पष्ट बहुमत नहीं

बेंगलूरु. राज्य की तुमकूरु, मैसूरु तथा शिवमोग्गा नगर निगम सहित कुल 105 शहरी स्थानीय निकायों के लिए 31 अगस्त को हुए चुनाव में सभी 2,6 6 2 वार्ड सीटों के चुनाव परिणाम मिल गए हैं। गठबंधन सरकार में भागीदार कांग्रेस कुल 98 2 सीटों पर जीत के साथ कांग्रेस पहले स्थान पर रही है वहीं भाजपा को 929, जनता दल-एस को 375, बसपा को 13 जबकि निर्दलीयों को 329 सीटों व अन्य को 34 सीटों पर सफलता मिली है। इन चुनावों में जहां अधिकतर सीटों पर कांग्रेस व भाजपा के बीच में कड़ी टक्कर हुई है वहीं पुराने मैसूरु क्षेत्र में जद-एस का पलड़ा भारी रहा है और प्रदेश के मध्य, तटीय, उत्तर व हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र में सत्तारूढ़ जद-एस को कोई खास सफलता नहीं मिली है।
कुल 29 नगर परिषदों में से 10 में कांग्रेस, 5 में भाजपा तथा 3 में जद-एस को जीत हासिल हुई है जबकि 11 नगर परिषदों में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है। इसी तरह 20 कस्बा पंचायतों में से 7-७ में कांग्रेस व भाजपा तथा 2 में जनता दल-एस को स्पष्ट बहुमत मिला है जबकि 4 कस्बा पंचायतों में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है।
राज्य की 53 नगर पालिकाओं में से 19 में कांग्रेस, 12 में भाजपा तथा 8 में जनता दल-एस को स्पष्ट बहुमत मिला है जबकि 14 नगर पालिकाओं में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है। जिन निकायों में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है वहां पर कांग्रेस व जद-एस में गठजोड़ के बारे में दोनों ही दलों के नेताओं ने सहमति जताई है। कुल 105 निकायों में से कांग्रेस को कुल मिलाकर 31 निकायों में बहुमत मिला है वहीं भाजपा को 30 व जद-एस को 13 निकायों में बहुमत हासिल हुआ है जबकि 31 निकायों में किसी को बहुमत हासिल नहीं हुआ है।
तीन नगर निगमों के चुनाव में भाजपा ने शिवमोग्गा नगर निगम का चुनाव जीत लिया है वहीं तुमकूरु तथा मैसूरु नगर निगम में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। इन दोनों नगर निगमों में कांग्रेस व जद-एस के बीच गठबंधन के आसार लग रहे हैं। तीन नगर निगमों की कुल 135 सीटों में से कांग्रेस को 36 , भाजपा को 54 तथा जनता दल-एस को 30 तथा अन्य को 15 सीटों पर सफलता मिली है। इसी तरह कस्बा पंचायतों से कुल 355 वार्ड में से 141 वार्ड में कांग्रेस, 129 वार्ड में भाजपा 29 वार्ड में जनता दल-एस जबकि 59 वार्ड में अन्य को जीत हासिल हुई है। नगर परिषदों की कुल 926 वार्ड सीटों में से 294 सीटें कांग्रेस, 355 सीटें भाजपा, 107 सीटें जनतादल-एस के खाते में गई है जबकि 170 सीटों पर अन्य ने जीत हासिल की है।
इसी तरह नगर पालिकाओं की कुल 1246 वार्ड सीटों में से 532 सीटों पर कांग्रेस ने कब्जा किया है वहीं भाजपा को 379 व जनता दल-एस को 211 सीटों पर जीत हासिल हुई है और अन्य की 115 सीटों पर सफलता मिली है। जहां तक जिलेवार स्थिति की सवाल है भाजपा ने बागलकोट, बेलगावी, चामराजनगर, चित्रदुर्गा, दक्षिण कन्नड़, उडुपी, दावणगेरे तथा शिवमोग्गा जिले में अधिक सीटों पर जीत हासिल की है वहां कांग्रेस ने यादगीर, रायचूर, बल्लारी, बीदर, हावेरी, कलबुर्गी कोप्पल में अधिक सीटों पर जीत हासिल की है वहीं हासन,मंड्या तथा तुमकूर जिलों में जद-एस का वर्चस्व रही है। इसी तरह विजयपुर, गदग तथा उत्तर कन्नड़ जिलों में भाजपा व कांग्रेस के बीच कड़ी टक्कर रही है वहीं मैसूरु जिले में कांग्रेस व जद-एस के बीच कड़ा मुकाबला रहा है।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned