कांग्रेस नेता ने कहा, खतरे का पता है लेकिन चिंता नहीं

खादर ने पुलिस सुरक्षा लेने से इनकार किया और कहा कि उन्हें पहले से पता है कि खतरा है लेकिन चिंता नहीं।
बसवराज बोम्मई ने नेता प्रतिपक्ष सिद्धरामय्या से संपर्क कर खादर को सुरक्षा लेने के लिए मनाने का अनुरोध किया। सिद्धरामय्या विधानसभा में खादर से मिले और सुरक्षा लेने के निर्देश दिए।

By: Santosh kumar Pandey

Published: 07 Mar 2020, 05:49 PM IST

बेंगलूरु. विधायक यूटी खादर को एक संगठन से हत्या की धमकी मिलने पर उन्हेंं पुलिस सुरक्षा प्रदान की गई है। गुप्तचर विभाग ने सरकार को दी रिपोर्ट में बताया कि एक संगठन ने सेत पर घात लगा कर हत्या करने का षड्यंत्र रचा। इस रिपोर्ट पर गृह मंत्री बसवाराज बोम्मई ने खादर को पुलिस सुरक्षा प्रदान करने के निर्देश दिए थे।

खादर ने पुलिस सुरक्षा लेने से इनकार किया और कहा कि उन्हें पहले से पता है कि खतरा है लेकिन चिंता नहीं।
बसवराज बोम्मई ने नेता प्रतिपक्ष सिद्धरामय्या से संपर्क कर खादर को सुरक्षा लेने के लिए मनाने का अनुरोध किया। सिद्धरामय्या विधानसभा में खादर से मिले और सुरक्षा लेने के निर्देश दिए।

खादर ने विधानसभा में पत्रकारों से कहा कि उन्हें जान का खतरा है और उन्हें कई बार कई धमकियां मिल चुकी है। बोम्मई ने उनसे सुरक्षा लेने का अनुरोध किया था लेकिन केवल एक सिपाही देने से सुरक्षा असंभव है। इसलिए उन्होंने सिपाही को वापस भेेज दिया।

खादर ने कहा कि तनवीर सेत को भी एक गनमैन प्रदान किया गया था फिर भी उन पर खतरनाक हमला किया गया। गन मैन केवल आठ घंंटे काम कर लौट जाएगा। इसके बाद कौन सुरक्षा करेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार उचित तरीके से सुरक्षा प्रदान करने में असमर्थ रही, इसीलिए उन्होंने सुरक्षा लेने से इंकार किया था।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned