कांग्रेस विधायक,सांसद केपीसीसी कोविड-19 कोष में एक लाख रुपए देंगे

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डी.के.शिवकुमार ने कहा कि हमारे पास अनेक विधायक व नेता हैं जो पेशेेे से चिकित्सक रहे हैं और हमारे पास ऐसे नेता भी हैं जो पूर्व में स्वास्थ्य मंत्रियों के तौर पर काम कर चुके हैं। इन तमाम जनों को साथ में लेकर हमने एक कार्यबल का गठन करने का निर्णय किया है। शिवकुमार ने शुक्रवार को यहां विपक्ष के नेता सिद्धरामय्या के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह कार्यबल केन्द्र व राज्य सरकार की पहल पर नजर रखेगी और इस बात को नोट करेगी कि क्या प्रशासन लोगों क जरुरतों को पुरा करने

By: Surendra Rajpurohit

Published: 27 Mar 2020, 09:48 PM IST

बेंगलूरु

कर्नाटक कांग्रेस ने कहा कि उसके तमाम विधायक, संसद सदस्य कोविड- 19 से लडऩे के लिए केपीसीसी कोष में न्यूनतम 1 लाख रुपए का योगदान करेंगे। पार्टी ने इस वायरस के संकरमण को फैलने से रोकने की निगरानी करने व सुझाव देने के संबंध में एक कार्यबल का भी गठन किया है। राज्य में मुख्य विपक्षी दल की भूमिका निभा रही कांग्रेेस ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के संरकार के संघर्ष में विपक्ष को विश्वास में लेने के लिए तत्काल सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग दोहराई है।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डी.के.शिवकुमार ने कहा कि हमारे पास अनेक विधायक व नेता हैं जो पेशेेे से चिकित्सक रहे हैं और हमारे पास ऐसे नेता भी हैं जो पूर्व में स्वास्थ्य मंत्रियों के तौर पर काम कर चुके हैं। इन तमाम जनों को साथ में लेकर हमने एक कार्यबल का गठन करने का निर्णय किया है। शिवकुमार ने शुक्रवार को यहां विपक्ष के नेता सिद्धरामय्या के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यह कार्यबल केन्द्र व राज्य सरकार की पहल पर नजर रखेगी और इस बात को नोट करेगी कि क्या प्रशासन लोगों क जरुरतों को पुरा करने के लिए प्रभावी तरीके से काम कर रहा है नहीं। इसी तरह यह कार्यबल मौजूदा हालात में पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा निभाई जाने वाली भूमिका के बारे में पार्टी को सूचित करेगी।

उन्होंने कहा कि इस कार्यबल का नेतृत्व पूर्व स्वास्थ्य मंत्री के.आर. रमेश कुमार करेंगे और पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष सलीम अहमद इसके संयोजक होंगे। कोविड- 19 के संबंध में केपीसीसी एक हेल्पलाईन भी शुरू करेगी। उन्होंने बताया कि केपीसीसी के वरिष्ठ नेताओं ने गुरावार की शाम बैठक करके राज्य में लागू किए गए लाकडाउन तथा कोविड - 19 के फैलाव की स्थिति का जायजा लिया है।

शिवकुमार ने लाकडाउन से प्रभावित गरीबों की सहायता करने के नाम पर भाजपा व आरएसएस के लोगों से जबरन चंदा व खाद्य सामग्री एकत्रित करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस ऐसी चीजों में लिप्त नहीं रहेगी और सरकार को सुझाव देगी कि हालात से मुकाला करने के लिए और क्या क्या किए जाने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने सभी विधायकों , विधान पार्षदों व संासदों से केपीसीसी के कोविड- 19 कोष में न्यूनतम 1 लाख रुपए का योगदान लेने का निर्णय किया है। यदि ब्लाक, तालुक,अथवा जिला स्तर के नेता स्वेच्छा से योगदान करना चाहे तो वे अपनी धनराशि केपीसीसी को भेंज सकते हैं।

जैसे ही यह धन जमा हो जाएगा कार्यबल व केपीसीसी का नेतृत्व यह निर्णय करेगा औक इस धन का किस तरह से सदुपयोग किया जाए। कांग्रेस अध्यक्ष ने लाकडाउन को लागू करने के लिए पुलिस की सख्ती की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि यह अमानवीय है लिहाजा दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। नागरिकोंपर लाठीचार्ज करना तत्काल बंद किया जाना चाहिए। राज्य सरकार विपक्ष को विश्वास में लने में विफल रही है। कम से कम अब तो हमें बुलाकर हालात का मुकाबला करने के बारे में विचार विमर्श करना चाहिएवरना पार्टी इस मसले को लेकर राज्यपाल के पास जाने के लिए बाध्य हो जाएगी।हालात का मुकाबला करने के लिए राज्य सरकार के पास स्पष्ट कार्य योजना का नितांत अभाव है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को किसानों के जल्द खराब होने वाले कृषि उत्पादों की बिक्री की व्यवस्था करनी चाहिए।

कोरोना वायरस से ेलडऩे के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के राष्ट्रव्यापी लाकडाउन के आह्वान व केन्द्रीय वित्त मंत्री, आरबीआई द्वारा उठाए गए कदमों का स्वागत करते हुए सिद्धरामय्या ने कहा कि सरकार को किसानों से उनके जल्द खराब होने वाले उत्पादों की खरीद करनी चाहिए गरीबों व किसानों के लिए दी जाने वाली सहायता को बढ़ाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को सभी स्वास्थ्यकर्मियों को व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों की आपूर्ति करनी चाहिए और हालात से निपटने के लिए परीक्षण प्रयोगशालाओंव वेंटीलेटरों पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार को तत्काल सर्वदलीय बैठक बुलाकर विपक्ष को विश्वास में लेना चाहिए।

BJP workers COVID-19 virus
Show More
Surendra Rajpurohit Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned