Congress ने किया Suspend तो बदले सुर रोशन बेग के

Congress ने किया Suspend तो बदले सुर रोशन बेग के

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Jun, 19 2019 07:24:02 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

बोले : दोहरे मानदंड अपना रही पार्टी, दूसरों ने भी की थी आलोचना, कार्रवाई सिर्फ उन्हीं पर हुई

बेंगलूरु. पार्टी से निलंबित किए जाने के बाद वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं शिवाजी नगर के विधायक आर.रोशन बेग ने कहा कि उनके खिलाफ दोहरा मानदंड अपनाया जा रहा है। उनके द्वारा की गई पार्टी नेतृत्व की आलोचना सच्चाई पर आधारित थी और वे पार्टी विरोधी गतिविधियों में कभी लिप्त नहीं रहे। वे वरिष्ठ नेताओं से बात करने के बाद अगला कदम उठाएंगे।

बेग ने यहां बुधवार को संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ एक शब्द भी नहीं कहा है। जो भी कहा वह प्रदेश नेताओं के बारे में कहा, और वह बिल्कुल सच है। क्या सच बोलना अपराध है? वे पार्टी के वरिष्ठ नेताओं रामलिंगा रेड्डी, एचके पाटिल, मल्लिकार्जुन खरगे और केएच मुनियप्पा से बात करने के बाद ही अगला कदम उठाएंगे।

पूर्व मंत्री और सात बार के विधायक बेग ने कहा कि राज्य में पार्टी सिर्फ एक सीट जीत पाई। दलित नेता केएच मुनियप्पा कोलार में चुनाव हार गए। पार्टी नेताओं ने उन्हें पार्टी के गढ़ में हराया। उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं हुई? मंड्या में कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने खुलेआम सुमालता के लिए काम किया। जद-एस के अध्यक्ष एचडी देवगौड़ा को भी तुमकूरु में हार का मुंह देखना पड़ा। लेकिन, कार्रवाई सिर्फ उनके खिलाफ हुई।

बेग ने कहा कि अगर पार्टी को मजबूत बनाना है तो तमाम मुद्दों पर खुली चर्चा होनी चाहिए। उन्होंने जो भी कहा, वह लाखों पार्टी कार्यकर्ताओं की राय है। यह पूछे जाने पर कि क्या सिद्धरामय्या ने उन्हें निलंबित कराने के लिए शीर्ष नेतृत्व पर दबाव डाला बेग ने कहा यह संभव है।

सच बर्दाश्त नहीं करती कांग्रेस: येड्डियूरप्पा

उधर, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बीएस येड्डियूरप्पा ने कहा कि रोशन बेग को पार्टी से इसलिए निलंबित कर दिया गया क्योंकि उन्होंने प्रदेश नेतृत्व के खिलाफ बोला। जो भी कांग्रेस पार्टी में सच बोलता है उसका यहीं हश्र होता है। पार्टी सच को बर्दाश्त नहीं करती।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned