कांग्रेस को फिर जनादेश देंगे मतदाता: सिद्धरामय्या

कांग्रेस को फिर जनादेश देंगे मतदाता: सिद्धरामय्या

Sanjay Kumar Kareer | Publish: May, 02 2018 01:17:34 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

भाजपा को भ्रष्टाचार पर बोलने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है क्योंकि उसने दागी लोगों को टिकट दिए

बेंगलूरु. मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने कहा कि प्रदेश के मतदाता एक बार फिर कांग्रेस को जनादेश देंगे और वे मुख्यमंत्री बने रहेंगे।

सिद्धरामय्या ने मंगलवार को कलबुर्गी में दावा किया कि उन्होंने पांच साल के कार्यकाल में कुछ गलत नहीं किया है। उन्होंने पिछले पांच सालों में स्वच्छ व पारदर्शी प्रशासन दिया है। सिद्धरामय्या ने कहा कि भाजपा को भ्रष्टाचार पर बोलने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है क्योंकि उसने दागी लोगों को टिकट दिए हैं। येड्डियूरप्पा को सोनिया गांधी या राहुल पर अंगुली उठाने का कोई हक नहीं है।

चुनाव बाद भाजपा के साथ गठजोड़ करने की स्थिति में कुमारस्वामी से संबंध तोड़ लेने के पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा के बयान के बारे में सिद्धरामय्या ने कहा कि देवेगौड़ा का बयान विश्वास करने योग्य नहीं है। पिछली बार भी उन्होंने कहा था कि वे कुमारस्वामी को भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने नहीं देंगे पर क्या हुआ? क्या उन्होंने अपने बेटे को गले से नहीं लगाया? राहुल गांधी की लालू यादव से मुलाकात के बारे में पूछे सवाल पर सिद्धरामय्या ने कहा कि यह एक शिष्टाचार भेंट थी और पार्टी का मानना है कि लालू यादव को निशाना बनाया गया है।

मोदी को दी खुली बहस की चुनौती

इस बीच, सिद्धरामय्या ने राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खुली बहस में भाग लेने की चुनौती दी है। मोदी की उडुपी में हुई चुनाव सभा में लगाए गए आरोपों पर कड़ी प्रतिक्रिया करते हुए उन्होंने ट्वीट किया कि वे मोदी को कर्नाटक तथा भाजपा शासित राज्यों में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर सार्वजनिक बहस की चुनोती देते हैं। वे मोदी को खुली बहस के लिए आमंत्रित करते हैं ताकि जनता को सच्चाई का पता चल सके।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि वे मोदी के फार्मूला टू प्लस वन के बारे में नहीं जानते हैं। वे तो केवल दो रेड्डी बंधुओं प्लस एक येड्डियूरप्पा के बारे में जानते हैं। भाजपा ने दागी रेड्डी बंधुओं व येड्डियूरप्पा को टिकट दिया है जो भ्रष्टाचार के आरोपों में जेल जाकर आ चुके हैं। 12 मई को होने जा रहे चुनाव में उनको पार्टी के टिकट देने के अलावा वे फार्मूले के बारे में कुछ नहीं जानते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned