सिद्धरामय्या के नेतृत्व में कांग्रेस फिर बनाएगी सरकार: राहुल

सिद्धरामय्या के नेतृत्व में कांग्रेस फिर बनाएगी सरकार: राहुल

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Feb, 27 2018 01:05:11 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

मंदिर, मठ और दरगाह के बाद खेत-खलिहानों में भी गए

बेंगलूरु. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने विश्वास जताया कि अगले चुनाव में कांग्रेस एक बार फिर जीत दर्ज कर सरकार बनाएगी और संकेत दिया कि सिद्धरामय्या ही मुख्यमंत्री बनेंगे।

राहुल ने अपने तीन दिवसीय दौरे के अंतिम दिन सोमवार को बेलगावी, गोडची और रामदुर्ग में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस फिर सरकार बनाएगी और सिद्धरामय्या के साथ वे राज्य को आगे ले जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भाजपा के साथ मनी एवं मीडिया है लेकिन कांग्रेस के साथ गुड गवर्नेंस और जनता है। सिद्धरामय्या सरकार ने जो कहा, वह किया। मोदी सरकार ने अपने किसी वादे को पूरा नहीं किया लेकिन प्रदेश कांग्रेस सरकार अलग है और उसने अपने हर वादे को पूरा किया है। यहां की जनता फिर एक बार कांग्रेस चुनेगी।

राहुल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ.जी.परमेश्वर और एसआर पाटिल के साथ गोडची स्थित वीरभदे्रश्वर मंदिर भी गए। जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान मंदिरों, मठों और दरगाहों में दर्शन करने वाले राहुल गांधी सोमवार को किसानों के खेत-खलिहानों में भी गए। उन्होंने मुंबई-कर्नाटक क्षेत्र के किसानों से उनके खेतों में मिले और उनकी समस्याओं के बारे में पूछा। जब किसान अपनी फसलों के नुकसान, ऋण और आय के बारे में बता रहे थे तब राहुल ने बड़े धैर्य के साथ उनकी बातें सुनीं। राहुल ने कहा कि उद्योगपति और मध्यम वर्ग भाजपा के साथ है लेकिन उनके साथ किसान, गरीब और मजदूर हैं। इस दौरान राहुल के साथ जी. परमेश्वर और मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या भी थे।

कानून-व्यवस्था पर शाह का आरोप अस्वीकार्य :गृहमंत्री

बेंगलूरु. गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का कर्नाटक में कानून-व्यवस्था चरमराने का आरोप अस्वीकार्य है। गृहमंत्री ने कहा कि ऐसा आरोप लगाने से पहले शाह को केंद्रीय गृह मंत्रालय से सही जानकारी लेनी चाहिए थी वास्तविक जानकारी के अभाव में शाह ने बेबुनियाद आरोप लगाया है।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अपराध अनुसंधान ब्यूरो की रिपोर्ट के अनुसार कर्नाटक में अपराध की दर 5 फीसदी है। इस मामले में कर्नाटक देश के राज्यों की सूची में 10 वें स्थान पर है। इसके विपरीत इस सूची में भाजपा प्रशासित उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश तथा राजस्थान अग्रणी हैं। वर्ष 2008 से लेकर वर्ष 2013 तक जब राज्य में भाजपा की सरकार थी, तब अपराध की दर 7 फीसदी थी। जो वर्ष 2013-18 तक 5 फीसदी तक गिर गई है। जिसका मतलब है कि राज्य में अपराध के मामले में घट रहे हैं।

गृहमंत्री ने पुलिस खुफिया विभाग को 100 करोड़ रुपए आवंटन का समर्थन करते हुए कहा कि इस वर्ष विधानसभा चुनाव होने के कारण यह आवंटन बढ़ाया गया है। देश की सभी राज्य सरकार ऐसा आवंटन करती हैं। केंद्र सरकार भी खुफिया विभाग के आवंटन में वृद्धि करता है। लिहाजा इस आवंटन वृद्धि में कोई खास बात नहीं है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned