आवंटित भूखंडों पर एसटीपी का निर्माण

एसटीपी निर्माण का एकपक्षीय फैसला

By: Sanjay Kulkarni

Published: 20 Apr 2021, 05:46 AM IST

बेंगलूरु. बेंगलूरु विकास प्राधिकरण (बीडीए) में चल रही भर्राशाही का एक और उदाहरण सामने आ गया है। कैंपगौड़ा लआउट में 142 लोगों को आवंटित भूखंडों के बीच बीडीए ने बिना किसी को बताए सीवर ट्रीटमेंट प्लांट (एससटीपी) का निर्माण शुरू कर दिया है। जिन्हें भूखंड आवंटित किए गए हैं, वे निर्माण कार्य देखकर हक्केबक्के हैं।
लोगों का आरोप है कि बीडीए ने एसटीपी निर्माण का एकपक्षीय फैसला लिया और इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई। अचानक एसटीपी का निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। जबकि उन्होंने बीडीए को इन आवासीय भूखंडों के लिए लाखों रुपए का भुगतान किया है। आवंटन के लिए 5-6 बार आवेदन करने के पश्चात उन्हें बमुश्किल 20 गुणा 30 फीट के 142 भूखंड आवंटित किए गए हैं। अचानक इन भूखंडों के बीच एसटीपी का निर्माण किया जा रहा है।
उधर, बीडीए का कहना है कि केंपेगौडा ले आउट के नौ ब्लॉक में 10 हजार भूखंड बनाए जा रहे हैं। योजना के अनुसार हर ब्लॉक में एक-एक एसटीपी का निर्माण किया जा रहा है। जिन लोगों के भूखंड लिए गए हैं, उन्हें इसी लेआउट में दूसरे भूखंड उपलब्ध किए जाएंगे। बीडीए आयुक्त डॉ एचआर महादेव के निर्देश पर एसटीपी का निर्माण किया जा रहा है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned