पांचवें चरण की ई नीलामी में बीडीए ने बेचे 317 कार्नर भूखंड

बीडीए को 50.93 फीसदी अधिक आय मिली है

By: Sanjay Kulkarni

Updated: 18 Dec 2020, 06:44 AM IST

बेंगलूरु. पांचवें चरण की ई नीलामी में बेंगलूरु विकास प्राधिकरण (बीडीए) ने शहर के विभिन्न ले आउट्स में स्थित 451 कार्नर भूखंडों की ई नीलामी में 317 भूखंड बेचे हंै।बीडीए के आयुक्त डॉ एचआर महादेव के अनुसार इस नीलामी में 4 लाख रुपए धरोहर राशि का भुगतान कर 1496 उपभोक्ताओं ने बोलियां लगाई। ई नीलामी के कारण बीडीए को 50.93 फीसदी अधिक आय मिली है।

इस प्रक्रिया के दौरान 109 भूखंडों को किसी ने भी बोलियां नहीं लगाने के कारण तथा 25 भूखंडों के लिए अपेक्षित बोलियां नहीं मिलने के कारण इन भूखंडों की नीलामी स्थगित की गई है।ई नीलामी में 317 भूखंडों के लिए 278 करोड़ 58 लाख रुपए की बोलियां लगाई गईं, जिनका मूल्य 184 करोड़ 57 लाख रुपए था। नीलामी से बीडीए को 94 करोड़ 1 लाख रुपए का अतिरिक्त लाभ हुआ है। बीडीए शीघ्र ही छठे चरण की ई नीलामी के लिए अधिसूचना जारी करेगी।

जनवरी में भूखंड वितरित करने का फैसला: विश्वनाथ

बेंगलूरु. बेंगलूरु विकास प्राधिकरण (बीडीए) ने जनवरी के पहले सप्ताह में लोगों को भूखंड वितरित करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं।बीडीए के चेयरमैन एस.आर.विश्वनाथ ने बीडीए के अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय बैठक कर पत्रकारों को बताया कि भूखंडों के लिए भुगतान कर चुके लोगों को भी अभी तक भूखंड वितरित नहीं किया गया है।

जनवरी में भूखंड वितरित किया जाएगा। कुछ मामलों में यहां भूखंड के बजाए, शिवराम कारंत ले आउट, केपेगौड़ा ले आउट और अन्य जगहों पर भूखंड वितरित किए गए हैं। अर्कावती ले आउट में अब किसी भी तरह की कोई कानून समस्या नहीं है। इस ले आउट का विकास होगा।

भूखंडों का समग्र विवरण 30 दिसंबर के अंत देने का आदेश दिया है। जनवरी में भूखंड वितरण होगा।उन्होंने कहा कि भूखंडों को जाली दस्तावेजों के जरिए बेचे जाने की शिकायत मिली है। इसकी जांच हो रही है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned