कर्नाटक में दस हजार की ओर बढ़ा कोरोना

  • राज्य में 9,746 नए मामले
  • 9102 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे

By: Santosh kumar Pandey

Updated: 05 Sep 2020, 07:11 PM IST

बेंगलूरु. कर्नाटक में शनिवार को एक बार फिर कोरोना के मामले दस हजार की ओर बढ़ते दिखाई दिए जब राज्य में पिछले चौबीस घंटे में कोरोना संक्रमण के 9,746 नए मामले सामने आए हैं।

बेंगलूरु में चौबीस घंटे में कोरोना के नए मरीजों की संख्या 3,093 रही। वहीं राज्य में शनिवार को 9,102 मरीजों ने कोरोना को मात दी और स्वस्थ होकर घर लौटे। स्वास्थ विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार राज्य में कोरोना के 99,617
एक्टिव मामले हैं। शनिवार को राज्य में 76,761 टेस्ट किए गए।

128 मरीजों की मौत
राज्य में शनिवार को पिछले चौबीस घंटों में कुल 128 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई इनमें से 34 की मौत बेंगलूरु में हुई है।

बेंगलूरु में कुल एक्टिव मामले 41,646

बेंगलूरु शहरी जिले में कुल एक्टिव मामलों की संख्या शनिवार को 41,479 हो गई। जिले में शनिवार को 3226 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे हैं।
शहर में अभी तक कोरोना संक्रमण के कारण 2125 मरीजों की मौत हो चुकी है।

कहां कितने नए मामले

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शनिवार को बेंगलूरु शहरी जिले में 3093, बागलकोट में 144, बेल्लारी जिले में 366, बेलगावी जिले में 473 नए मरीज
मिले हैं। वहीं बेंगलूरु ग्रामीण जिले में 124, बीदर में 119, चामराजनगर जिले में 31, चिकबल्लापुर जिले में 133, चिकमगलूर में 238, चित्रदुर्गा में 240, दक्षिण कन्नड जिले में 377, दावणगेरे में 395, धारवाड़ जिले में 227, गदग जिले में 145, हासन में 347, हावेरी जिले में 188, कलबुर्गी जिले में 198, कोडगू जिले में 28, कोलार जिले में 112, कोप्पल जिले में 243, मंड्या जिले में 246 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है।
इसी तरह मैसूरु जिले में 790, रायचूर जिले में 186, रामनगर में 92, शिवमोग्गा जिले में 346 नए लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।

बेंगलूरु में 275 मरीज आईसीयू में

बेंगलूरु शहरी जिले में 275 मरीजों सहित राज्य में कुल 769 मरीज आईसीयू में भर्ती हैं। धारवाड़ जिले में 68, हासन में 80 मरीज आईसीयू में भर्ती हैं।

COVID-19
Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned