हवाई अड्डे पर होम क्वारेंटाइन स्टैंपिंग शुरू

-एहतियात व निगरानी में मिलेगी मदद

By: Nikhil Kumar

Published: 19 Mar 2020, 09:59 PM IST

बेंगलूरु. चुनाव (Election) में काम आने वाली स्याही (Ink) अब उन विदेशी यात्रियों की पहचान बन गई है, जिन्हें नोवल कोरोना वायरस (Novel Corona Virus) यानी कोविड-19 के संक्रमण के खतरों के कारण एहतियातन होम क्वारेंटाइन (home Quanantine) के लिए प्रदेश सरकार व स्वास्थ्य विभाग ने चिन्हित किया है।

बेंगलूरु के कैंपेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (केआइए) पर गुरुवार से ऐसे यात्रियों के हाथ पर मुहर लगाने का काम शुरू हो गया है। स्टैंप में क्वारेंटाइन में रहने की अंतिम तारीख अंकित है। जिसका मतलब है कि चिन्हित व्यक्ति को दी गई तारीख तक होम क्वारेंटाइन में रहना ही होगा। होम क्वारेंटाइन में रहने की सलाह के बावजूद कई लोगों के बाहर घूमने के मामले सामने आने के बाद प्रदेश सरकार ने यह निर्णय लिया।

स्वास्थ्य आयुक्त पंकज कुमार पांडे ने कहा कि स्टैंपिंग से होम क्वारेंटाइन में रहने वाले यात्रियों पर निगाह रखने में मदद मिलेगी। स्टैंप लगने के बाद संबंधित यात्री खुद भी बाहर घूमने से परहेज करेगा। उन्होंने कहा कि निर्देश के बावजूद कई यात्री उनके घरों या होटलों में अलग निगरानी में नहीं रह रहे हैं। ऐसे में संक्रमण का खतरा दूसरों पर भी मंडराता रहता है।

पांडे ने बताया कि थर्मल स्क्रीनिंग रिपोर्ट व इसकी गंभीरता के आधार पर यात्रियों को तीन श्रेणी में बांटा गया है। उच्च जोखिम वाले यात्रियों को समूह-ए, मध्यम जोखिम वालों को समूह-बी और सबसे कम जोखिम वालों को समूह-सी में रखने के निर्देश हैं। सभी समूह के यात्रियों को घर जाने की इजाजत है लेकिन समूह-ए और समूह-बी के यात्रियों के बांए हाथ पर स्टैंपिंग होगी।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned