खाद्यान्न के उत्पादन अब देश आत्मनिर्भर : करंदलाजे

इस वर्ष 305 मिलियन टन उत्पादन

By: Sanjay Kulkarni

Published: 21 Aug 2021, 05:59 PM IST

खाद्यान्न के उत्पादन अब देश आत्मनिर्भर : करंदलाजे
- इस वर्ष 305 मिलियन टन उत्पादन
बेंगलूरु. केंद्रीय कृषि तथा किसान कल्याण राज्य मंत्री शोभा करंदलाजे ने कहा कि केंद्र सरकार की योजनाओं के परिणाम स्वरूप ही आज देश खाद्यान्न के उत्पादन में आत्मनिर्भर है। इस वर्ष 305 मिलियन टन खाद्यान्न तथा 316 मिलियन टन बागवानी उपज का उत्पादन कर किसानों ने एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है।
खाद्यान्न निर्यात में भारत 9 वें स्थान पर
उन्होंने यहां शुक्रवार को कहा कि भारत खाद्यान्न निर्यात करनेवाले देशों की सूची में 9 वें स्थान पर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार के कार्यकाल के दौरान कृषि क्षेत्र का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में 12 से 14 फीसदी योगदान होता था। लेकिन, भाजपा सरकार के कार्यकाल में यह 20.22 फीसदी तक पहुंच चुका है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक राज्य बूंद-बूंद सिंचाई में अब देश में अव्वल स्थान पर पहुंच गया है। नारियल के निर्यात पर रोक हटाई गई है। इस फैसले से नारियल उत्पादक किसानों को राहत मिली है।
कृषि को लाभदायक बनाने का संकल्प
उन्होंने कहा कि इस स्थिति को बदलने के लिए केंद्र सरकार ने किसानों को कई रियायतें देकर कृषि को लाभदायक बनाने का संकल्प किया है। दलहन तथा तिलहन उत्पादों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। वर्ष 2020 -21 बजट में कृषि विभाग के लिए 1 लाख 21 हजार करोड़ का आवंटन अब तक का सबसे अधिक आवंटन है। संप्रग सरकार के कार्यकाल में वर्ष 2012-13 के बजट में महज 21 हजार 350 करोड़ रुपए का आवंटन इस क्षेत्र को किया गया था।
कृषि उत्पादों के निर्यात में राज्य पीछे
शोभा ने कहा कि कृषि उत्पादों के निर्यात के मामले में राज्य पीछे है और इसे प्राथमिकता देने के लिए कदम उठाए जाएंगे। दूसरे कई राज्य इसमें आगे हैं। उन्होंने राज्य को विशेष निर्यात प्रकोष्ठ स्थापित करने का सुझाव दिया। शोभा ने कहा कि कॉफी, काली मिर्च और प्याज ही मुख्यत: निर्यात होता है। शोभा ने कहा कि खाद्य तेल के मामले में भी सरकार देश को आत्मनिर्भर बनाने की योजना पर काम कर रही है। अभी ७० प्रतिशत खाद्य तेल आयात करना पड़ता है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned