scriptCountry lost 74 tigers, 11 from Karnataka | देश ने खोए 74 बाघ, 11 कर्नाटक से | Patrika News

देश ने खोए 74 बाघ, 11 कर्नाटक से

  • वन विभाग के अनुसार गत वर्ष 15 Tigers की मौत हुई थी। इनमें दो शिकार के मामले भी थे। इस साल की शुरुआत में, विभाग ने नागरहोले टाइगर रिजर्व के बफर जोन में एक बाघ की खाल, पंजे और नाखून बेचने की कोशिश के दौरान छह लोगों को गिरफ्तार किया था

बैंगलोर

Updated: July 28, 2022 08:09:59 am

National Tiger Conservation Authority (एनटीसीए) के अनुसार, इस साल जनवरी से अब तक देश में 74 बाघों की मौत हुई है, जिनमें से 11 की मौत Karnataka में दर्ज हुई। राज्य के Bandipur Tiger Reserve में पांच, Nagarhole Tiger Reserve में चार और डीबी कुप्पे रेंज व अनेचौकुर वन्यजीव रेंज में एक-एक मौत हुई हैं।

देश ने खोए 74 बाघ, 11 कर्नाटक से
देश ने खोए 74 बाघ, 11 कर्नाटक से

वन विभाग के अनुसार गत वर्ष 15 Tigers की मौत हुई थी। इनमें दो शिकार के मामले भी थे। इस साल की शुरुआत में, विभाग ने नागरहोले टाइगर रिजर्व के बफर जोन में एक बाघ की खाल, पंजे और नाखून बेचने की कोशिश के दौरान छह लोगों को गिरफ्तार किया था।

बुढ़ापा और क्षेत्रीय लड़ाई बड़ा कारण
मुख्य वन्यजीव वार्डन विजयकुमार गोगी ने बताया कि बुढ़ापा और क्षेत्रीय लड़ाई के कारण ज्यादातर मौतें हुई हैं। कर्नाटक में पिछले साल अवैध शिकार के दो मामले सामने आए थे। इसके अलावा, कुछ बाघ, जो पुराने हैं और जंगल में नहीं रह सकते हैं या प्रजनन नहीं कर सकते हैं, उन्हें वन विभाग के पुनर्वास और बचाव केंद्र में भेजा जाता है। कुछ अधेड़ उम्र के बाघों को भी पुनर्वास केंद्र में रखा जाता है। आम तौर पर ये वे बाघ होते हैं, जो क्षेत्रीय लड़ाई में घायल हो जाते हैं। एक बार जब वे बचाव केंद्र में होते हैं और लंबे समय तक इलाज चलता है। कई बार इन बाघों को वापस जंगल में छोडऩा मुश्किल हो जाता है क्योंकि वे अपनी प्राकृतिक शिकार प्रवृत्ति खो देते हैं।

उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में इस साल अब तक सबसे अधिक 27 बाघों की मौत हुई है जबकि महाराष्ट्र में 15, असम में पांच, केरल और राजस्थान में चार-चार, उत्तर प्रदेश में तीन, आंध्र प्रदेश में दो, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और बिहार में एक-एक बाघ की मौत हुई हैं।

एनटीआर में शुरू होगी दो और सफारी
मैसूरु. Nagarhole Tiger Reserve (एनटीआर) में दो और जगहों पर सफारी शुरू होगी। सब कुछ ठीक रहा तो नवंबर-दिसंबर में पर्यटक इसका लुत्फ उठा सकेंगे। काउंटर स्थापित करने सहित प्रारंभिक कार्य शुरू हो गया है। कोडुगू जिले के तिथीमठी में हुणसूर-गोनिकोप्पा मार्ग पर पहला जबकि मैसूरु जिले के पेरियापटाना तालुक के मुथुर गांव में अनेचोकुर रेंज में दूसरा Safari होगा। नागरहोले में पहले से ही तीन सफारी का संचालन हो रहा है। दो सफारी के जुडऩे से कुल संख्या पांच हो जाएगी, जो राज्य में किसी टाइगर रिजर्व के लिए सबसे अधिक है।

पर्यावरणविदों को डर है कि पर्यटकों के आवागमन से शांत इलाकों में हलचल बढ़ जाएगी और इसका प्रतिकूल असर पड़ सकता है। सरकार के इस कदम ने वन्यजीव और संरक्षण कार्यकर्ताओं को भी चिंता में डाल दिया है।

पर्यावरण कार्यकर्ता गिरिधर कुलकर्णी ने कहा कि दो नए सफारी पॉइंट खुलने के बाद अधिकारियों को वीरानाहोसाहल्ली और नानाछी गेट पर सफारी पॉइंट को बंद कर देना चाहिए। राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) के दिशा-निर्देशों के अनुसार टाइगर रिजर्व वन क्षेत्र के 20 फीसदी से ज्यादा हिस्से में पर्यटन क्षेत्र नहीं हो सकता है।

अधिकारियों का कहना है कि यह सफारी अलग है। नए मार्ग बफर जोन तक ही सीमित रहेंगे और कोर जोन को नहीं छूएंगे।

नागरहोले टाइगर रिजर्व के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नई सुविधा को एनटीसीए ने अनुमोदित किया है। एनटीसीए ने बफर जोन में पर्यटन का प्रस्ताव किया है ताकि कोर एरिया पर दबाव कम किया जा सके। हम ऐसी सफारी नहीं देख रहे हैं, जो बाघ या हाथी केंद्रित हो। हम चाहते हैं कि जनता वन स्थलाकृति का अनुभव करे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्तFlag Code Of India: 'हर घर तिरंगा' अभियान शुरू, 15 अगस्त से पहले जानिए तिरंगा फहराने के नियम, अपमान पर होगी जेल3 PAK खिलाड़ी बन सकते हैं टीम इंडिया की गले की हड्डी, Asia Cup 2022 में रहना होगा अलर्टशहर को गाजर घास मुक्त करने निगम ने चलाया विशेष अभियान, कुछ ऐसे चलेगा Operation 7 खिलाड़ी जो भारत पाकिस्तान 2021 T20 वर्ल्डकप मैच का थे हिस्सा, लेकिन एशिया कप 2022 मैच में नहीं मिली जगह
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.