चक्रवाती तूफान से राज्य में भारी बारिश की आशंका

Shankar Sharma

Publish: Oct, 12 2017 09:02:34 PM (IST)

Bangalore, Karnataka, India
चक्रवाती तूफान से राज्य में भारी बारिश की आशंका

बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवाती तूफान के कारण अगले कुछ दिन तक पूरे प्रदेश में भारी बारिश हो सकती है

बेंगलूरु. बंगाल की खाड़ी में बने चक्रवाती तूफान के कारण अगले कुछ दिन तक पूरे प्रदेश में भारी बारिश हो सकती है। बेंगलूरु मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक एसएम मैत्री ने बताया कि बंगाल की खाड़ी के पूर्वी क्षेत्र में साइक्लोनिक सर्कुलेशन और अरब सागर के बड़े क्षेत्र में हवा के कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है।

इस कारण अगले कुछ दिन तक प्रदेश में भारी बारिश होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि इसी कारण पिछले २४ घंटे में बेंगलूरु, चामराजनगर, रामनगर, कोलार, मैसूरु और चिक्कमगलूरु में अच्छी बारिश हुई है। उन्होंने कहा कि उत्तर और दक्षिण कर्नाटक के कई जिलों में आंधी के साथ तेज बारिश होने की संभावना है।


तालाब में बदले कई इलाके
मंगलवार रात और बुधवार को हुई भारी बारिश के कारण शहर नेलमंगला, इलेक्ट्रॉनिक्स सिटी, होसूर रोड, मारतहल्ली, ओल्ड एयरपोर्ट रोड, बल्लारी रोड, ओकलीपुरम, चालुक्य सर्कल, कोरमंगला महाराजा जंक्शन, जयमहल रोड, बन्नेरघट्टा रोड, हेब्बाल, सिल्क बोर्ड जंक्शन, केआर मार्ग, मल्लेश्वरम सहित कई इलाकों में भारी जल भराव का सामना करना पड़ रहा है। नेलमंगला क्षेत्र के ६० से अधिक घरों में बारिश का पानी घुसने से लोगों की गृहस्थी का सामान बर्बाद हो गया है।


मैसूरु में कुव्यस्थाओं से परेशान लोगों ने कुप्पम पार्क के मुख्य चौराहे पर प्रदर्शन एवं नारेबाजी की। उनका आरोप है कि प्रशासन जल निकासी एवं सफाई पर ध्यान नहीं दे रहा। उनका आरोप है कि नालों की सफाई और दवाओं का सही छिडक़ाव नहीं होने से लोगों को सांप-बिच्छुओं से हमेशा जान का खतरा रहता है।


कई क्षेत्रों का मुख्य मार्ग से टूटा संपर्क
कोलार, रामनगर, चामराज नगर और बीदर में भारी बारिश के कारण परिवहन की स्थिति बदहाल हो गई है। बारिश से रामनगर जिले में अधिकतर क्षेत्र पानी में डूब गए हैं और नागरिकों को आश्रय के घर के छतों या दूसरे स्थानों पर जाना पड़ रहा है।


केएसआरटीसी के प्रबंध निदेशक एसआर उमाशंकर ने बताया कि भारी बारिश के कारण बसों की सेवा बंद नहीं हुई है, लेकिन कई मार्गों पर भारी जलभराव के कारण यात्रियों को पहुंचाने में परेशानी हो रही है। रामनगर में २० बसों के यात्रियों को अन्य स्थानों पर छोड़ा गया है। भारी बारिश से चामराजनगर, कोलार और बीदर के कई मुख्य मार्ग पर भारी पानी भरने से यातायात बंद करना पड़ा है।

Ad Block is Banned