जल आपूर्ति बोर्ड को गर्मियों में राहत पानी की खपत में भारी गिरावट

लॉकडाउन के कारण पानी की खपत में प्रति दिन 100 एमएलडी गिरावट होने के कारण बेंगलूरु पेयजलापूर्ति तथा मल-जल निस्तारण बोर्ड (बीडब्लूएसएसबी) को काफी राहत मिली है अन्यथा गर्मियों के दिनों में बोर्ड को मांग तथा आपूर्ति के बीच संतुलन बनाए रखने में काफी संघर्ष करना पड़ता है।

By: Sanjay Kulkarni

Published: 07 Apr 2020, 08:50 PM IST

बेंगलूरु. बोर्ड के मुख्य अभियंता केंपरामय्या के अनुसार बोर्ड की ओर से शहर के 8 लाख 70 हजार मकानों को पानी की आपूर्ति की जा रही है। शहर के लगभग 1 करोड़ उपभोक्ता कावेरी नदी के पानी का स्नान, कपडे धोना जैसे विभिन्न कार्यों में प्रति दिन उपयोग करते है। कोरोना वायरस के कारण लोग हाथ साफ करने के लिए अधिक पानी का उपयोग कर रहें है।लॉकडाउन के कारण अधिकतर उद्योग बंद होने से पानी की मांग घटी है।

शहर के 60 हजार से अधिक वाणिज्य संकुलों में पानी का उपयोग ही नहीं हो रहा है। इस कारण से शहर में अब पानी की खपत में प्रति दिन 100 एमएलडी गिरावट हुई है।जलापूर्ति बोर्ड ने गत वर्ष अप्रैल माह में शहर को 1500 एमएलडी पानी की आपूर्ति की थी अबकि बार इसी माह के पहले सप्ताह में बोर्ड 1300 से 1350 एमएलडी पानी की आपूर्ति कर रहा है। इस माह के दूसरे तथा तीसरे सप्ताह में पानी की मांग अगर 1500 एमएलडी तकबढ़ भी जाती है तो भी केआरएस बांध में पर्याप्त पानी का भंडारण होने से इतनी मात्रा में पेयजल आपूर्ति में कोई परेशानी नहीं है।

साथ में शहर के अधिकतर वाणिज्यिक इकाइयों को की जा रही पेयजल की आपूर्ति ठप होने के कारण बोर्ड के पास अतिरिक्त पेयजल उपलब्ध है। अस्पतालों को भी मांग के अनुपात में पानी की आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned