बैठक से नदारद रहे उपमुख्यमंत्री परमेश्वर

बैठक से नदारद रहे उपमुख्यमंत्री परमेश्वर

Shankar Sharma | Publish: Sep, 02 2018 10:50:32 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर चर्चा के लिए शनिवार को प्रदेश कांग्रेस प्रभारी महासचिव के सी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में प्रदेश कार्यालय में हुई बैठक में उपमुख्मयंत्री डॉ जी परमेश्वर शामिल नहीं हुए।

बेंगलूरु. लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर चर्चा के लिए शनिवार को प्रदेश कांग्रेस प्रभारी महासचिव के सी वेणुगोपाल की अध्यक्षता में प्रदेश कार्यालय में हुई बैठक में उपमुख्मयंत्री डॉ जी परमेश्वर शामिल नहीं हुए। पार्टी के गलियारों में चर्चा है ब्लॉक और जिला संगठन में बदलाव के मसले पर प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुंडूराव से मतभेद के कारण परमेश्वर में बैठक में शामिल नहीं हुए।

पार्टी सूत्रों का कहना है कि दिनेश निष्क्रिय पड़़े संगठन को मजबूत करने के लिए बदलाव करना चाहते हैं लेकिन अधिकांश जिलों में परमेश्वर समर्थक नेता अध्यक्ष हैं और इसका विरोध कर रहे हैं। बैठक में दिनेश को इसे लेकर नेताओं की नाराजगी भी झेलनी पड़ी।


सूत्रों के मुताबिक जिला पदाधिकारियों की बैठक में भाग लेने के बजाय परमेश्वर शनिवार को गृह जिले तुमकूरु के दौरे पर चले गए, जहां उन्हें अपने शिक्षण संस्थान के चिकित्सा महाविद्यालय में नए सत्र का उद्घाटन करना था।


आज भी बैठक रहेगी जारी: बैठक में प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष ईश्वर खंड्रे, चिकित्सा शिक्षा मंत्री डी के शिवकुमार, पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या भी शामिल हुए। शनिवार को बैठक में बीदर, बल्लारी, बेलगावी, कोप्पल और कलबुर्गी के नेता शामिल हुए। दिनेश ने कहा कि रविवार को भी वेणुगोपाल बाकी जिलों के नेताओं के साथ चुनाव की तैयारियों पर बैठक करेंगे।

सतीश जारकीहोली रहे गैर हाजिर
वेणुगोपाल के बुलाने के बावजूद असंतुष्ट चल रहे पूर्व मंत्री सतीश जारकीहोली बैठक मेंं नहीं आए। बेलगावी जिला कांग्रेस समिति में चल रहे मतभेदों को सुलझाने और लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर चर्चा के लिए वेणुगोपाल ने सतीश के अलावा जिले के अन्य पार्टियों नेताओं को भी बैठक में आमंत्रित किया था।

जारकीहोली बंधुओं व प्रदेश महिला कांग्र्रेस अध्यक्ष लक्ष्मी हेब्बालकर के बीच विवाद को सुलझाने के लिए वेणुगोपाल ने दोनों को बुलाया था। हुब्बल्ली मेंं पत्रकारों से बातचीत में सतीश ने कहा कि वे पहले से तय कार्यक्रमों मेंं व्यस्तता के कारण बैठक में नहीं जाएंगे। हालांकि, उनके भाई व जिला प्रभारी मंत्री रमेश जारकीहोली बैठक में भाग लेंगे। सतीश ने कहा कि हेब्बालकर से मतभेद स्थानीय स्तर का मसला है। वेणुगोपाल ने बैठक लोकसभा चुनाव की तैयारियों पर बुलाई है, स्थानीय मसलों पर नहीं। सतीश ने कहा कि राजनीति में हमेशा किसी भी तरह के हालात का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए।

उलझे शिवकुमार और रमेश जारकीहोली
सूत्रों के मुताबिक बेलगावी लोकसभा सीट के लिए संभावित उम्मीदवार के नाम को लेकर चिकित्सा शिक्षा मंत्री डी के शिवकुमार व बेलगावी जिला प्रभारी मंत्री रमेश जारकीहोली आपस में वेणुगोपाल के सामने ही उलझ गए। दोनों नेताओंं में इसे लेकर काफी बहस हुई। शिवकुमार बेलगावी से उम्मीदवार के तौर पर हेब्बालकर का समर्थन कर रहे थे जबकि रमेश ने इसका विरोध किया। रमेश ने शिवकुमार को बेलगावी जिले की राजनीति मेंं दखल नहीं देने के लिए कहा। बैठक के बाद वेणुगोपाल ने मामले को सुलझाने के लिए रमेश को कुमारकृपा अतिथि गृह में बुलाया। हेब्बालकर और जारकीहोली बंधुओं में कृषि उत्पादन विपणन समिति में नियुक्तियों व पीएलडी बैंक के चुनाव को लेकर विवाद है।

Ad Block is Banned