राज्य में ईमानदार अधिकारियों का कर्तव्य निर्वहन कठिन: करंदलाजे

राज्य में ईमानदार अधिकारियों का कर्तव्य निर्वहन कठिन: करंदलाजे

Ram Naresh Gautam | Publish: Mar, 14 2018 05:55:19 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

प्रदेश भाजपा की महासचिव शोभा करंदलाजे ने यह बात कही

बेंगलूरु. राज्य सरकार प्रशासनिक अधिकारियों का विश्वास खोती जा रही है। प्रशासनिक अधिकारियों को अपना दायित्व निभाना कठिन होते जा रहा है। प्रदेश भाजपा की महासचिव शोभा करंदलाजे ने यह बात कही। मंगलवार को पार्टी कार्यालय में उन्होंने पत्रकारों से कहा कि कई अधिकारियों की संदिग्ध मौत हो गई। नेताओं द्वारा अधिकारियों को अपमानित किया जा रहा है। ईनामदार अधिकारियों पर हमले किए जा रहे हैं। इसके बावजूद मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या चुप हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को बताना होगा कि क्या वास्तव में राज्य सरकार ईमानदार अधिकारियों की रक्षक है? राज्य के कई जिलों में बजरी माफिया खुले आम जिला तथा तहसील के प्रशासनिक अधिकारियों को क्यों धमका रहे हैं। ऐसे माफियाओं को किसका संरक्षण प्राप्त है?

डीसी के तबादले पर केएटी ने रखा फैसला सुरक्षित
बेंगलूरु. कर्नाटक प्रशासनिक पंचाट (केएटी) ने हासन जिलाधिकारी रोहिणी सिंधूरी के राज्य सरकार के तबादले के चुनौती देन वाली याचिका की सुनवाई पूरी कर ली है। पंचाट ने सुनवाई के पश्चात इस मामले का फैसला 21 मार्च तक सुरक्षित रखा है। तब तक रोहिणी के स्थान पर नियुक्त मैसूरु जिलाधिकारी रणदीप को अपनी सेवाएं जारी रखने के लिए निर्देशित किया गया है।

अभिषेक गोयल की नियुक्ति अब कोच्ची में
बेंगलूरु. पुलिस उपायुक्त यातायात (पूर्व) अभिषेक गोयल की पदस्थापना अब केंद्र सरकार में हो गई है। राज्य सरकार ने उन्हें मंगलवार को उनकी वर्तमान जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया ताकि वे तुरंत प्रभाव से कोच्ची प्रवर्तन निदेशालय में कार्य भार संभाल सकें। अधिकृत जानकारी के अनुसार केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उनकी नियुक्ति प्रवर्तन निदेशालय में संयुक्त निदेशक के पद पर की है। केंद्र सरकार के अनुरोध पर राज्य सरकार ने मंगलवार को ही उनके तबादले का आदेश जारी कर दिया। वित्त एवं राजस्व मंत्रालय ने पिछले सप्ताह 5 मार्च को ही इस संदर्भ में राज्य सरकार को सूचना भेजी थी।

कोप्पल एसपी के तबादले पर केएटी का स्थगनादेश
बेंगलुरु. राज्य सरकार के कोप्पल के जिला पुलिस अधीक्षक अनूप शेट्टी के तबादले के आदेश पर कर्नाटक प्रशासनिक पंचाट (केएटी) ने स्थगनादेश जारी किया है। हाल में राज्य सरकार ने भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईपीएस) के अधिकारियों के तबादले के आदेश जारी किए थे। इस सूची में कोप्पल जिला पुलिस अधीक्षक अनूप शेट्टी का भी नाम शामिल था। अनूप शेट्टी ने प्रशासनिक नियमों के हवाले से राज्य सरकार के तबादले के आदेश को केएटी में चुनौती दी थी। सुनवाई के बाद केएटी ने शेट्टी की आपत्ति को सही करार देते हुए इस तबादले के आदेश पर रोक लगा दी है।

Ad Block is Banned