अबकि बार नहीं होगा श्री वैरमुडी ब्रह्मोत्सव

जिला प्रशासन ने जिले के पांडवपुरा तहसील के मेलकोटे में स्थित वैष्णव तीर्थक्षेत्र चलुवरायस्वामी मंदिर में प्रति वर्ष आयोजित श्री वैरमुडी ब्रह्मोत्सव अनिश्चित काल के लिए स्थगित करने का फैसला किया है।

By: Sanjay Kulkarni

Updated: 29 Mar 2020, 08:09 PM IST

मण्डया.जिला प्रशासन ने जिले के पांडवपुरा तहसील के मेलकोटे में स्थित वैष्णव तीर्थक्षेत्र चलुवरायस्वामी मंदिर में प्रति वर्ष आयोजित श्री वैरमुडी ब्रह्मोत्सव अनिश्चित काल के लिए स्थगित करने का फैसला किया है।जिलाधिकारी एमवी वेंकटेश ने यहां रविवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि इस महोत्सव में कर्नाटक के विभिन्न जिलों के अलावा पडोसी तमिलनाडु, केरल तथा तेलंगाणा के हजारों श्रध्दालु भाग लेते है। लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए राज्य सरकार ने लॉकडाउन घोषित किया है। ऐसी स्थिति में यह महोत्सव मनाना तार्किक नहीं होने के कारण यह फैसला लिया गया है।प्रति वर्ष यहां पर 15 दिनों तक विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन होता है। प्रतिवर्ष चलुवरायस्वामी को हिरे तथा मोतियों से जड़ा किरीट तथा अन्य ्आभूषण चढ़ाएं जाते है।जिसे वैरमुडी उत्सव कहा जाता है।भगवान को महोत्सव के दौरान हीरे मोतियों से जड़े आभूषणों से सजाया जाता है।मैसूर के वाडियार परिवार की ओर से दान में दिए गए करोड़ों रुपए मूल्य के आभूषणों को जिला कोषागार में रखा जाता है। गत वर्ष वैरमुडी महोत्सव में तीन लाख श्रध्दालु पहुंचे थे।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned