जाति पर केंद्रित राजनीति में विश्वास नहीं : शिवकुमार

समुदाय का राजनीति के लिए उपयोग नहीं

By: Sanjay Kulkarni

Published: 17 Oct 2020, 09:29 PM IST

बेंगलूरु. चार दशकों से राजनीति में सक्रिय हूं लेकिन मैंने कभी जाति पर केंद्रित राजनीति नहीं की है। कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति (केपीसीसी) का अध्यक्ष होने के कारण अब कांग्रेस ही मेरी जाति है। डीके शिवकुमार ने यह बात कही। पूर्व मु यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के बयान को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि उनका जन्म एक किसान परिवार में होने के कारण वे वोक्कालिगा हैं लेकिन उन्होंने कभी इस समुदाय का राजनीति के लिए उपयोग नहीं किया। चुनाव के दौरान एक राजनीतिज्ञ दूसरे दलों के नेताओं को अपने दल में शामिल करने का प्रयास करता है। इसमें कुछ भी गलत नहीं है।

उन्होंने कहा की एचडी कुमारस्वामी शायद भूल गए हैं कि जब जनता दल सत्ता में था तब उसमें भी कांग्रेस के कई नेता शामिल हुए थे। राजनेताओं का दल-बदल राजनीति का हिस्सा है। इसे जाति पर केंद्रित राजनीति से जोडऩा उचित नहीं है।

उप चुनाव सरकार के लिए खतरे की घंटी: सिद्धरामय्या

बेंगलूरु. नेता प्रतिपक्ष सिद्धरामय्या ने कहा कि आर.आर.नगर और सिरा विधानसभा क्षेत्र के उप चुुनाव भाजपा सरकार के लिए खतरे की घंटी होगी।उन्होंने शुक्रवार को अपने निवास पर संवाददाताओं से कहा कि प्रदेश में जनता विरोधी और भ्रष्ट सरकार चल रही है। इन दोनों क्षेत्रों के उप चुनाव में मतदाता भाजपा उम्मीदवारों को सबक सिखाएंगे। सरकार मतदाताओं को कई तरह के लालच दे सकती है। इसलिए मतदाता चौकन्ने रहें।

उन्होंने कहा कि गत विधानसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार टी.बी जयचन्द्र केवल कुछ वोटों से हारे थे। इसलिए उन्हेंं फिर उम्मीदवार बनाया है। इस उप चुनाव में सरकारी यंत्र का गलत इस्तेमाल होने की आशंका है। दोनों क्षेत्रों के नेताओं और कार्यकर्ताओं को कड़ी नजर रखने के निर्देश दिए हंै। अवैध गतिविधियों के मामलों में कानून को हाथ में नहीं लेने और पुलिस की सहायता लेने का सुझाव दिया है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned