साइबर अपराध कानून में आमूलाग्र परिवर्तन : अश्वथनारायण

आनेवाले दिनों में साइबर अपराधों को नियंत्रित करने के लिए मौजूदा कानून में व्यापक सुधार लाए जाएंगे।मौजूदा इस कानून में काफी खामियां है।ऐसी खामियां दूर होने से ही इस क्षेत्र में पारदर्शिता संभव होगी।उपमुख्यमंत्री डॉ सीएन अश्वथनारायण ने यह बात कही।पत्रकार सहकारिता संघ के 70 वें वार्षिकोत्सव के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेते हुए उन्होंने कहा कि देश में दिन ब दिन डिजिटल लेन-देन बढ़ रही है।

बेंगलूरु.आनेवाले दिनों में साइबर अपराधों को नियंत्रित करने के लिए मौजूदा कानून में व्यापक सुधार लाए जाएंगे।मौजूदा इस कानून में काफी खामियां है।ऐसी खामियां दूर होने से ही इस क्षेत्र में पारदर्शिता संभव होगी।उपमुख्यमंत्री डॉ सीएन अश्वथनारायण ने यह बात कही।
शहर में शुक्रवार को पत्रकार सहकारिता संघ के 70 वें वार्षिकोत्सव के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेते हुए उन्होंने कहा कि देश में दिन ब दिन डिजिटल लेन-देन बढ़ रही है।समय के साथ चलते हुए सहकारिता संघों को भी अब डिजिटल लेन-देन को प्रोत्साहित करना होगा। ऑनलाइन व्यापार के कारण अब पूरा विश्व ही एक बड़ा बाजार बन गया है। यहां पर सभी को एक समान अवसर होने के कारण अपने उत्पादों को ऑनलाइन पर विपणन की व्यवस्था करना अब हर उत्पादक के लिए अनिवार्य हो गया है। ऑनलाइन तथा डिजिटल लेन-देन के इस कार्यकाल में हम कही अलग-थलग नहीं हो जाए इसलिए ऐसे सुधारों को कारोबार में शीघ्र से शीघ्र अपनाना होगा।
उन्होंने पत्रकार सहकारिता संघ की सराहना करते हुए कहा कि लगातार 70 वर्षों तक सहकारिता संघ का संचालन करना आसान नहीं है। कई चुनौतियों के बावजूद इस संघ ने अपना दायित्व भलीभांति निभाया है। लिहाजा यह संघ बधाई का पात्र है।
सिद्धगंगा मठ के प्रमुख सिद्ध्लिंगस्वामी ने कहा कि गणतंत्र की रक्षा में मीडिया की भूमिका अहम रही है।पत्रकारिता का क्षेत्र काफी संवेदनशील होने के कारण कौनसी खबर को कितना प्रचार देना यह पत्रकारों के विवेक पर निर्भर होता है। अपना दायित्व निभाने के साथ-साथ पत्रकारों को सामाजिक ताने-बाने को लेकर संवेदनशील होना भी अनिवार्य है।
स्वतंत्रता सेनानी एचएस दौरेस्वामी ने पत्रकार सहकारिता संघ की सराहना करते हुए कहा कि न्यूनतम निवेश के साथ स्थापित इस संघ का गत 70 वर्षों से निष्कलंक रहना ही एक असाधारण उपलब्धि है।इस अनूठे सहकारिता संघ पर आज तक एक भी भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगना इस संघ की विशेषता है। इस अवसर पर सहकारिता संघ के वरिष्ठ सदस्यों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में आदिचुंचनगिरी मठ के प्रमुख स्वामी निर्मलानंदनाथ ने संघ के स्मृति ग्रंथ का विमोचन किया।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned