अल्पसंख्यक विकास निगम को पर्याप्त अनुदान

निगम को और अनुदान जारी

By: Sanjay Kulkarni

Updated: 24 Sep 2021, 04:59 AM IST

अल्पसंख्यक विकास निगम को पर्याप्त अनुदान
बेंगलूरु. राज्य अल्पसंख्यक विकास निगम को अनुदान देने में भेदभाव नहीं किया जा रहा है। कानून एवं संसदीय मामलों के मंत्री जेसी मधुस्वामी ने यह बात कही।
विधान परिषद में प्रश्नकाल के दौरान उन्होंने कहा कि निगम को वर्ष 2016-17 में 141.13 करोड़ रुपए का अनुदान जारी किया गया था। इसमें से 112.20 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। 2017-18 में 174.27 करोड़ रुपए का अनुदान जारी किया गया था। इसमें से 172.82 करोड़ खर्च किए गए है।
उन्होंने कहा कि 2018-19 में 174.86 करोड़ रुपए का अनुदान जारी किया गया था। इसमें से 168.94 करोड़ रुए खर्च किए गए है। 2019-20 में 142.39 करोड़ रुपए का अनुदान जारी किया गया था। इसमें से 138.82 करोड़ खर्च किए गए। वर्ष 2020-21 में 75.18 करोड़ रुपए का अनुदान जारी किया गया था। इसमें से 73.49 करोड़ खर्च किए गए है।
उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण सरकार को अपेक्षित स्तर पर राजस्व संग्रहण नहीं हो रहा है। राजस्व संग्रहण में सुधार होने के पश्चात इस निगम को और अनुदान जारी किया जाएगा।
मंत्री के इस जवाब से बीएम फारुक तथा नसीर अहमद ने असहमति जताते हुए कहा कि पहले निगम को 3500 करोड़ रुपए का अनुदान मिलता था जिसे घटाकर अब 900 करोड़ रुपए कर दिया गया है। निगम के अनुदान में कटौती कर राज्य सरकार 14 फीसदी आबादी के साथ अन्याय कर रही है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned