scriptEssence of life in devotion to God - Sadhvi Bhavyagunashree | परमात्मा की भक्ति में ही जीवन का सार-साध्वी भव्यगुणाश्री | Patrika News

परमात्मा की भक्ति में ही जीवन का सार-साध्वी भव्यगुणाश्री

धर्मसभा का आयोजन

बैंगलोर

Updated: December 31, 2021 07:02:19 am

बेंगलूरु. आदिनाथ जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक संघ शांतिनगर में विराजित साध्वी भव्यगुणाश्री व साध्वी शीतलगुणाश्री ने पाश्र्वनाथ जन्म एवं दीक्षा कल्याणक महोत्सव पर कहा कि परमात्मा की भक्ति करना यही जीवन का सार है। जो तपता है वही पकता है, अ_म तप एवं तीन एकासणा बहुत से भाग्यशाली ने किए। आत्मा परमात्मा बनती है तपने के बाद साध्वी भव्यगुणाश्री ने कहा कि जीवन की हर सफलता के लिए तप आवश्यक होता है...। जीवन में तप है, तो सफलता तय है। साध्वी शीतलगुणाश्री ने कहा कि मनुष्य की इच्छा-शक्ति पक्षी के उन पंखों की तरह मजबूत होनी चाहिए। जो विपरीत हवा के रुख को भी अपने उडऩे का माध्यम बना लेते हैं। तुषार गुरु ने कहा कि साध्वी की निश्रा में तीन दिवसीय भव्य महोत्सव हुआ। शक्रस्तव अभिषेक, स्नात्र महोत्सव, 56 दिक्कुमारी, वामा माता,14 स्वप्न दर्शन का ऐतिहासिक कार्यक्रम संपन्न हुआ। साध्वी भव्यगुणाश्री के मुखारविंद से सर्व सिद्धि दायक, सर्व शांतिकारक, सर्व ग्रहपिडा निवारक, ऋद्धि सिद्धि समृद्धिदायक, बीजमंत्रों द्वारा साधित विशिष्ट मन्त्रसाधना का अमृत कुंभ याने कि दिव्य चमत्कारी महामांगलिक श्रवण करने का अनुपम अवसर 2022 के शुभारंभ के शुभ अवसर पर शनिवार को महा मंगलकारी महा मांगलिक का आयोजन होगा। आपके दिन को आपके महिने को आपके वर्ष को और आपके जीवन को मंगलमय बनाने एवं आधि-व्याधि- उपाधि को दूर करने रिद्धी सिद्धी समृद्धि से भरपूर यह मांगलिक अवश्य सुने। दिव्य साधना में अभिमंत्रित वासक्षेप प्रदान किया जाएगा। मांगलिक का लाभ राजेन्दकुमार त्रिलोक कुमार बोथरा परिवार ने लिया।
परमात्मा की भक्ति में ही जीवन का सार-साध्वी भव्यगुणाश्री
परमात्मा की भक्ति में ही जीवन का सार-साध्वी भव्यगुणाश्री
सभी धर्म शांति का संदेश देते हैं-साध्वी सुधाकंवर
बेंगलूरु. साध्वी सुधाकंवर गुरुवार सुबह श्रीरामपुरम में विहार कर वृद्धिचंद पितलिया के यहां पहुंचे। साध्वी सुधाकंवर ने कहा कि संसार के सभी धर्म परस्पर प्रेम और शांति का संदेश देते हैं। मनुष्य के जीवन में संगठन का बड़ा महत्व है। जो परिवार, संघ संगठित होता है वहां शांति का वातावरण होता है और वह सदा प्रगति की ओर अग्रसर होता है। इस अवसर पर अनेक श्रद्धालुगण उपस्थित हुए। महासती ने सभी को मंगलपाठ प्रदान किया। साध्वीवृंद का आगामी चातुर्मास बड़पलनी, चेन्नई में घोषित है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपीकेशव मौर्य की चुनौती स्वीकार, अखिलेश पहली बार लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, आजमगढ के गोपालपुर से ठोकेंगे तालकोरोना के नए मामलों में भारी उछाल, 24 घंटे में 2.82 लाख से ज्यादा केस, 441 ने तोड़ा दम5G से विमानों को खतरा? Air India ने अमरीका जाने वाली कई उड़ानें रद्द कीPM मोदी की मौजूदगी में BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक आज, फाइनल किए जाएंगे UP, उत्तराखंड, गोवा और पंजाब के उम्मीदवारों के नामरोहित शर्मा को क्यों नहीं बनाया जाना चाहिए टेस्ट कप्तान, सुनील गावस्कर ने समझाई बड़ी बातखत्म हुआ इंतज़ार! आ गया Tata Tiago और Tigor का नया CNG अवतार शानदार माइलेज के साथकोरोना का कहर : सुप्रीम कोर्ट के 10 जज कोविड पॉजिटिव, महाराष्ट्र में 499 पुलिसकर्मी भी संक्रमित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.