औरादकर समिति की सिफारिशों पर टिकी आस

औरादकर समिति की सिफारिशों पर टिकी आस

Rajendra Shekhar Vyas | Publish: Feb, 04 2019 06:08:28 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

60 हजार पुलिस कर्मियों को बजट में वेतन बढऩे का इंतजार

बेंगलूरु. राज्य के 60 हजार से अधिक पुलिस कर्मचारी बजट का बेसब्री के साथ इंतजार कर रहे है। वर्ष 2015-16 में वेतनश्रेणी में वृद्धि तथा अन्य मांगो को लेकर राज्य में पुलिस कर्मचारियों ने हड़ताल की चेतावनी दी थी। पुलिस कर्मचारियों की इस चेतावनी से सकते में आई सरकार ने तत्कालीन आइजीपी राघवेंद्र औरादकर के नेतृत्व में समिति का गठन किया था।

इस समिति ने हेडकांस्टेबल से लेकर विभिन्न श्रेणी के पुलिस कर्मचारियों के लिए 30 से 35 फीसदी वेतन वृध्दि की सिफारिश की थी। पुलिस कर्मचारी बजट में औैरादकर समिति की सिफारिशों के तहत 30 से 35 फीसदी वेतनवृद्धि होने की आस लगाकर बैठे है। वर्ष 2018-19 के बजट में यह मांग पूरी नहीं की गई थी। इस दौरान विभिन्न भत्तों में वृद्धि के नाम पर पुलिस कर्मचारियों को 500 से 700 रुपए वेतन वृद्धि की गई थी। उसके पश्चात इस समिति की सिफारिशों को ठंडे बस्ते में रखा गया है।

गृहमंत्री एम.बी.पाटिल ने समिति की अधिकतर सिफारिशें लागू करने का वादा किया है। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने शीत सत्र के दौरान पुलिस की सराहना करते हुए वेतनवृद्धि की मांग का समर्थन किया था। समिति की सिफारिशें लागू करने से कोषागार पर वार्षिक 800 से 900 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार पडेगा। दो लाख करोड़ रुपए का बजट पेश करनेवाली सरकार के लिए कोई बड़ी राशि नहीं है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned