बेटी को मारने गए पिता की गई जान, की-बोर्ड बना कारण

रात के डेढ़ बजे हुई मारपीट

By: Santosh kumar Pandey

Updated: 24 Jul 2020, 06:19 PM IST

बेंगलूरु. घटना माइको ले-आउट थाना क्षेत्र की है। रात के डेढ़ बज रहे थे। शराब के नशे में पूर्व सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने की-बोर्ड पर जोर-जोर से कोई धुन बजाना शुरू किया। उनकी बेटी(15) ने जोर आवाज को लेकर आपत्ति जताई लेकिन पिता माना नहीं और जोर आवाज में की-बोर्ड बजाना जारी रखा।

बेटी ने कहा कि पढ़ाई में एकाग्रता भंग हो रही है इसलिए आवाज कम कर दी जाए। पिता तब भी नहीं माने तब बेटी ने कहा कि यदि आपने इसी तरह से जोर आवाज में बजाना जारी रखा तो पड़ोसी परेशान होकर पुलिस को बुला सकते हैं।

किचन से निकाला चाकू

इसी बात पर पिता का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंचा और उसने किचन में जाकर चाकू निकाला और बेटी पर हमला करने की कोशिश की। हमले में बेटी के कंधे, पीठ और हाथ में चोट आई। बेटी ने पिता का हाथ कसकर पकड़े रखा और उन्हें धक्का दे दिया। इसी दौरान छीना-झपटी में पिता के हाथ से चाकू उनके सीने में जा लगा।

पुलिस के अनुसार बाद में दोनों अपने कमरे में चले गए। थोड़ी देर बाद उसका भाई उठा तो उसने देखा कि पिता खून से लथपथ पड़े हैं। यह देखकर घर में चीख-पुकार मच गई। पड़ोसियों ने माइको ले-आउट थाने को सूचना दी। लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले पिता की मौत हो चुकी थी।

पुलिस के अनुसार कोलकाता निवासी पिता एक टेक फर्म में सीनियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर था। वर्ष 2015 में उसने त्यागपत्र दे दिया था। वर्ष 2012 में बीमारी से पत्नी की मौत के बाद वह शराब पीने लगा था।

पुलिस ने गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है। जांच जारी है।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned