जमात में भाग लेने वालों को अंतिम चेतावनी

Coronavirus in Karnataka: बल्लारी जिले के पुलिस अधीक्षक सी.के.बाबा ने तब्लीगी जमात (tablighi jamaat) में भाग लेने वालों को चेतावनी दी है कि उन्होंने स्वास्थ्य की जांच नहीं कराई तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी।

By: Santosh kumar Pandey

Published: 08 Apr 2020, 03:49 PM IST

बेंगलूरु. बल्लारी जिले के पुलिस अधीक्षक सी.के.बाबा ने तब्लीगी जमात में भाग लेने वालों को चेतावनी दी है कि उन्होंने स्वास्थ्य की जांच नहीं कराई तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी।

उन्होंने कहा कि जिले से कई मुसलमानों ने जमात में भाग लिया था। उनमें सात लोग होम क्लारेंटाइन हंै। जबकि अन्य लोगों के भी भाग लेने का पता चला है। ऐसे लोगों को मस्जिदों और मुस्लिम धार्मिक नेताओं के जरिए क्वारेंटाइन में भर्ती होने के निर्देश दिए गए। फिर भी वे अभी तक छिप रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस तरह छिप कर महामारी फैलाने के जुर्म में कानून के तहत सात साल की सजा दी जा सकती है। लिहाजा उन्हें अंतिम बार चेतावनी दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि इस जिले से २७ लोगों ने जमात में भाग लिया था। सभी लोगों ने हैदराबाद से नई दिल्ली केे लिए रेल गाडी मे सफर किया था। फिर वापसी १७ मार्च को हुई थी। उनके साथ सफर करने वाले दूसरे लोगों और संपंर्क में आए लोगों के स्वास्थ्य की जांच कराना जरूरी है।

जिलाधिकारी नकुल ने कहा कि क्वारेंटाइन में भर्ती होने से किसी का अपनान नहीं होगा। जमात में गए लोगों ने इलाज नहीं कराया तो उनके परिवार और उनके संपर्क में आए दूसरे लोग भी इस महामारी का शिकार हो सकते है। उन्होंने कहा कि इसके बाद भी अगर जमात में गए लोग कहीं छिपे मिलेंगे तो उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। इसलिए जिला प्रशासन से अंतिम चेतावनी दी जा रही है।

Corona virus
Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned