वित्तीय अनियमितता के आरोपी विधान सभा सचिव निलंबित

राज्य सरकार ने विधान सभा के सचिव एस. मूर्ति को निलंबित करने का आदेश जारी किया है।

By: शंकर शर्मा

Published: 30 Dec 2018, 05:58 AM IST

बेंगलूरु. राज्य सरकार ने विधान सभा के सचिव एस. मूर्ति को निलंबित करने का आदेश जारी किया है। उन पर वर्ष 2016-17 में बेलगावी के सुवर्ण विधान सौधा में हुए शीतकालीन सत्र के दौरान अनावश्यक खर्च करने का आरोप साबित होने के बाद प्रशासन तथा कार्मिक सुधार विभाग के सचिव ने निलंबन आदेश जारी किया गया है।

वित्त विभाग ने शीतकालीन सत्र के दौरान हुए खर्च पर आपत्ति व्यक्त करते हुए मामले की जांच के लिए राज्य के लेखापाल तथा लेखा-जोखा विभाग के अतिरिक्त निदेशक शिवरुद्रप्पा के नेतृत्व में पांच प्रशासनिक अधिकारियों की समिति गठित की थी।


जांच समिति ने विधानसभा के अध्यक्ष के.आर. रमेश कुमार तथा सरकार के मुख्य सचिव टी.एम. विजय भास्कर को जांच रिपोर्ट सौंपी थी। एस. मूर्ति ने बेलगावी में विधानमंडल शीतकालीन सत्र के दौरान भोजन, पांडाल निर्माण, सुवर्ण सौधा भवन का रंगरोगन, शौचालयों का निर्माण, मच्छरदानी खरीदी और भाड़े के रूप में खर्च हुई रकम का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया था। इसमें पांडाल निर्माण के लिए 9 करोड़ 32 लाख, सुवर्णसौधा के रंगरोगन पर 2 करोड़ 48 लाख, मच्छरदानी का किराया 1 करोड़ 84 लाख, टॉयलेट केमिकल के लिए 2 करोड़ 42 लाख, गणमान्य आवास तथा भोजन व्यय 45 लाख 48 हजार रुपए खर्च किए जाने का विवरण शामिल था।


लेकिन, इस ब्यौरे का वास्तविक खर्च से मेल नहीं होने के कारण जांच समिति ने मूर्ति को दोषी करार दिया था। राज्य सरकार ने जांच समिति की रिपोर्ट पर कार्रवाई करते हुए उन्हें निलंबित करने का आदेश जारी किया है।


उधर, आदेश जारी होने के पश्चात एस. मूर्ति ने इस कार्रवाई के लिए विधानसभा अध्यक्ष रमेशकुमार जिम्मेदार हैं। मूर्ति ने कहा कि उन्होंने रमेश कुमार के एक रिश्तेदार की कंपनी को ठेकेदारी देने से इनकार किया था, जिस कारण बदले की भावना से यह कार्रवाई की गई है। मूर्ति ने कहा कि वे दलित हैं, इसलिए उनके साथ ऐसा बर्ताव किया गया है।

संपत्ति के विवाद में बेटे ने मां पर किया हमला
हासन. जिले के सकलेशपुर तहसील के येसलूरु थानांतर्गत हडवरहल्ली गांव में शुक्रवार रात को संपत्ति विवाद को लेकर दिलीप नामक व्यक्ति ने मां ललितम्मा (55) पर हमला कर दिया। ललितम्मा को हासन के जिला सरकारी अस्पताल में भर्ती किया गया है।


बताया जाता है कि दिलीप ने हाल ही में दूसरी शादी की थी। इस बात को लेकर मां-बेटे के बीच कई दिनों से अनबन थी। दिलीप पैतृक संपत्ति अपने नाम करवाने के लिए मां के साथ झगड़ा करता था। शुक्रवार देर रात घर पहुंचे दिलीप ने इसी बात को लेकर झगड़ा शुरू कर दिया। इस दौरान दिलीप ने ललितम्मा पर धारदार हथियार से वार कर दिया। हमले में ललितम्मा का दायां हाथ टूट गया और बाएं हाथ की अंगुलियां कट गईं। ललितम्मा की चीख सुनकर मौके पर पहुंचे पड़ोसियों ने दिलीप को पकडक़र पुलिस के हवाले कर दिया। गंभीर रूप से घायल ललितम्मा की जिला अस्पताल में चिकित्सा चल रही है।पुलिस ने दिलीप के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे हिरासत में लिया है।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned