होटलों में बनेंगे स्टेप डाउन अस्पताल

उपलब्ध होंगे 3200 बिस्तर

By: Sanjay Kulkarni

Updated: 13 May 2021, 04:59 AM IST

बेंगलूरु. गृहमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि कोरोना संक्रमितों को शहर के अस्पतालों में चिकित्सा के लिए बिस्तर उपलब्ध कराने की समस्या के समाधान के लिए शहर के अस्पतालों के निकट स्थित बड़े होटलों में स्टेप डाउन केयर सेंटर स्थापित किया जा रहा है। इन केंद्रों के माध्यम से शहर में 3200 बिस्तर उपलब्ध होंगे।यह जानकारी दी।
बुधवार को शहर के पांच तथा तीन तारा होटल के प्रतिनिधियों के साथ वर्चुअल संवाद के बाद उन्होंने कहा कि इन केंद्रों के कारण कोरोना चिकित्सा अस्पतालों पर बोझ कम होगा।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में कोरोना चिकित्सा केंद्रों में बिस्तर पाना संभव नहीं हो रहा है। इस समस्या के समाधान के लिए यह एक वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है। आनेवाले दो तीन दिनों में राज्य के विभिन्न जिलों में ऐसे 2 हजार स्टेप डाउन केयर सेंटर स्थापित किए जाएंगे। पहले चरण में शहर के 12 अस्पतालों को इन अस्पतालों के निकट स्थित होटलों के साथ जोड़ा गया है।
मरीजों के लिए भोजन की भी व्यवस्था
उन्होंने कहा कि इन होटलों में स्थापित अस्थायी चिकित्सा केंद्रों में ऑक्सीजन कांसंट्रेटर, कोरोना चिकित्सा के लिए आवश्यक सामग्री, मरीजों को लिए भोजन की व्यवस्था की जाएगी। होटल मालिक संघ के साथ बातचीत कर इस व्यवस्था में अधिक से अधिक होटलों को जोडऩे का प्रयास किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन की सुविधायुक्त बिस्तरों की मांग पूरी करने के लिए शहर के अस्पतालों के परिसर में भी 10 से 15 बिस्तर क्षमता के अस्थायी चिकित्सा केंद्र स्थापित करने की अनुमति दी गई है। कोरोना चिकित्सा के लिए बिस्तर उपलब्ध कराने के प्रशासनिक आदेश का उल्लंघन कर रहे शहर के निजी क्षेत्र के तीन अस्पतालों को नोटिस दिए गए है।

उन्होंने कहा कि आनेवाले दिनों में 30 बिस्तर क्षमता के अस्पतालों में भी कोरोना की चिकित्सा के लिए सरकारी कोटे से बिस्तर आरक्षित किए जाएंगे। ऐसे अस्पतालों के प्रबंधन के साथ बृहद बेंगलूरु महानगर पालिका के अधिकारियों को बातचीत करने के निर्देश दिए गए है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned