कोरोना : कर्नाटक में दूसरे दिन भी स्वस्थ से ज्यादा संक्रमित

- सात मरीजों ने गंवाई जान

By: Nikhil Kumar

Published: 12 Feb 2021, 10:49 AM IST

बेंगलूरु. कर्नाटक (Karnataka) में लगातार दूसरे दिन कोरोना को मात देने वालों की संख्या नए मरीजों से कम रही। हालांकि, रिकवरी दर 98 फीसदी से ज्यादा है। राज्य में गत 24 घंटे में कोविड के 430 नए पुष्ट मामले सामने आए और 340 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिली।

कुल 9,44,057 संक्रमितों में से 9,25,829 संक्रमित कोरोना को मात दे कर घर लौट चुके हैं। प्रदेश में 5,958 मरीज उपचाराधीन हैं। कोविड से कुल 12,251 मरीजों की मौत हुई है। इनमें से सात मौतों की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को की। सात में से छह मौतें बेंगलूरु में हुई हैं। इनमें से छह मरीजों को इन्फ्लूएंजा लाइक इलनेस यानी आइएलआइ (जुकाम, खांसी व बुखार के मरीज) के कारण अस्पताल में भर्ती किया गया था। एक मामला सिवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी इंफेक्शन (एसएआरआइ) का है।

42 दिन में 35 लाख से ज्यादा जांच

राज्य में बीते 24 घंटे के दौरान 3,598 रैपिड एंटीजन और 64,596 आरटी-पीसीआर के साथ कुल 68,194 नए कोविड सैंपल जांचे गए। इस वर्ष गुरुवार तक 35,64,047 लोगों ने कोविड जांच कराई है।
53 फीसदी नए मरीज बेंगलूरु से

430 नए मरीजों में से 228 मरीज बेंगलूरु (Bengaluru) शहरी जिले में मिले हैं। बेंगलूरु में अभी तक 4,417 मरीजों ने कोविड के कारण अपनी जान गंवाई हैं।

27वें दिन 16 फीसदी ने लगवाई वैक्सीन

बेंगलूरु. राज्य में गुरुवार को कोविड टीकाकरण दर अन्य दिनों के मुकाबले कम रही। 27वें दिन लक्ष्य का 16 फीसदी ही हासिल हुआ। शेष लाभान्वित टीकाकरण के लिए आगे नहीं आए।

प्रदेश में गुरुवार को 7,028 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगने थे। 1,465 कर्मी ही टीके के लिए केंद्र पहुंचे। वहीं 60,283 फीसदी फ्रंटलाइन वर्कर्स में से 9,246 वर्कर्स ने वैक्सीन लगवाई। 27 दिन में 8,20,791 स्वास्थ्यकर्मियों के टीकाकरण का लक्ष्य था। 49 फीसदी हासिल हुआ है। चार दिन में 2,83,523 फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण होना था। लक्ष्य का 25 फीसदी ही हासिल हो सका है। कुल 69,869 वर्कर्स ने वैक्सीन लगवाई।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned