टिकट नहीं मिलने से नाराज पूर्व मंत्री बेलमगी ने छोड़ी भाजपा

टिकट नहीं मिलने से नाराज पूर्व मंत्री बेलमगी ने छोड़ी भाजपा

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Apr, 22 2018 05:24:16 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

बंजारा समुदाय रेवू नायक बेलमगी पर जद (ध) या निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लडऩे का दबाव बना रहा है।

कलबुर्गी. गुलबर्गा ग्रामीण क्षेत्र से टिकट नहीं मिलने से नाराज पूर्व मंत्री रेवू नायक बेलमगी ने यहां शनिवार को भाजपा की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र देने की घोषणा की है।

उन्होंने पत्रकारों को बताया की प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष येड्डियूरप्पा ने उनको इस सीट से टिकट दिलाने का वादा किया था लेकिन इस क्षेत्र के लिए बसवराज मट्टीमूड जैसे समाजकंटक को प्रत्याशी बनाकर येड्डियूरप्पा ने उनके साथ वादाखिलाफी करने के साथ साबित कर दिया है कि सत्ता पाने के लिए येड्डियूरप्पा किसी भी हद तक जा सकते है।

उन्होंने भाजपा पर गुलबर्गा ग्रामीण क्षेत्र का टिकट बेचने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनका समर्थक बंजारा समुदाय उन पर जद (ध) या निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लडऩे के लिए दबाव ला रहा है। एक दो दिनों में वे इस मामले को लेकर स्थिति स्पष्ट करेंगे।

कांग्रेस में शामिल होंगे गोपालकृष्णा

शिवमोग्गा. सागर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा का टिकट नहीं मिलने से आक्रोशित पूर्व मंत्री बेलूर गोपालकृष्णा ने भाजपा छोड़ कर कांग्रेस में जाने के संकेत दिए है। शनिवार को इस सिलसिले में उन्होंने एआईसीसी के महासचिव बी.के.हरिप्रसाद से मुलाकात कर सागर विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के प्रत्याशी उनके ससुर राजस्व मंत्री कागोडु तिम्मप्पा का समर्थन करने की मंशा जताई है।

लक्ष्मी नारायण का विप से इस्तीफा

निर्दलीय विधान परिषद सदस्य एमडी लक्ष्मीनारायण ने शनिवार को सभापति डी.एच.शंकरमूर्ति को विधान परिषद की सदस्यता से त्यागपत्र सौंप दिया। लक्ष्मीनारायण बेलगावी (दक्षिण) क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं।

कुमारस्वामी बोले : भाजपा-कांग्रेस को महंगा पड़ेगा अहंकार

बागलकोट. जनादेश की प्रतीक्षा किए बगैर कांग्रेस के सिद्धरामय्या तथा भाजपा के बीएस येड्डियूरप्पा मुख्यमंत्री बनने का दावा कर रहे हैं। उनका अहंकार कांग्रेस तथा भाजपा के लिए महंगा साबित होगा। जनता दल (ध) के प्रदेश अध्यक्ष एच.डी.कुमारस्वामी ने यह बात कही।


बादामी विधानसभा क्षेत्र में शनिवार को पार्टी के प्रत्याशी हनुमंतप्पा के नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले उन्होंने कहा कि दोनों नेता मतदाताओं के फैसले से पहले ही स्वयं को मुख्यमंत्री मान कर अहंकार से भरा बर्ताव कर रहें हैं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या चामुंडेश्वरी तथा बादामी दोनों क्षेत्रों से चुनाव हारेंगे। पांच बार जीतने के बावजूद मुख्यमंत्री का चामुंडेश्वरी विधानसभा क्षेत्र में गांव-गांव में जाकर चुनाव प्रचार करना इस बात का द्योतक है कि मुख्यमंत्री जीत के प्रति आश्वस्त नहीं है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned