चार एकड़ में हो रही थी गांजे की खेती, पुलिस को पता चला तो उसने यह कदम उठाया

पता लगाना बेहद मुश्किल था

By: Santosh kumar Pandey

Published: 05 Sep 2020, 07:50 PM IST

बेंगलूरु. दावणगेरे जिले में रामपुरा पुलिस ने मोलाकालमुरु तालुक के ओडेयारहल्ली गांव में 4 एकड़ निजी भूमि पर फैले गांजे के एक बड़े बागान का पता लगाया है।

उप निरीक्षक गुड्डप्पा के नेतृत्व में पुलिस दल ने गांजे के पौधों को उखाड़ दिया। पुलिस अधीक्षक जी राधिका ने कहा कि हमें ओडेयारहल्ली गांव के सर्वे नंबर 20 पर चार एकड़ में गांजे के पौधे मिले हैं। इसकी कीमत 2 करोड़ रुपये से अधिक है। पौधे लगभग ढाई मीटर ऊंचे हो चुके थे और कुछ दिनों में इनकी कटाई की जा सकती थी।

पता लगाना बेहद मुश्किल था

उन्होंने बताया कि यह भूमि पहाडिय़ों और घने जंगलों से घिरी होने के कारण यहां गांजे की खेती का पता लगाना बेहद मुश्किल था। इसके अलावा खेती करने वालों ने गांजे की खेती को छिपाने के लिए चारों तरफ हरा जाल लगा रखा था।

उन्होंने कहा कि हम मामले की जांच कर रहे हैं, और अपराधियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने आरोपी का नाम बताने से यह कहते हुए इनकार कर दिया कि इससे जांच प्रभावित हो सकती है। रामपुरा पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज किया है।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned