कर्नाटक में गड्ढों की सरकार: जावड़ेकर

कर्नाटक में गड्ढों की सरकार: जावड़ेकर

Shankar Sharma | Updated: 20 Nov 2017, 09:14:37 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को यहां एक कार्यक्रम के दौरान राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कांग्रेस सरकार को गड्ढों की सरकार बताय

बेंगलूरु. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को यहां एक कार्यक्रम के दौरान राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कांग्रेस सरकार को गड्ढों की सरकार बताया। भाजपा के प्री मेनिफैस्टो अभियान के लिए यहां आए जावड़ेकर ने कहा कि यदि आप एक गड्ढे की तस्वीर लेकर प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के पिछले दिनों लॉन्च किए गए एप पर अपलोड करेंगे तो उस पर तत्काल कार्रवाई होती है लेकिन बेंगलूरु शहर इसका अपवाद है क्योंकि यहां तो चारों ओर गड्ढों की ही भरमार है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि यह गड्ढों के लिए, गड्ढों की सरकार है। जावड़ेकर ने कहा कि बेंगलूरु की सडक़ों के तमाम गड्ढे ब्लैक ***** हैं, जहां यह सिद्धराय्या सरकार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि यह भ्रष्टाचार का एक ज्वलंत प्रमाण है।


इससे पूर्व समारोह में उन्होंने केंद्र सरकार की नीतियों और उपलब्धियों का बखान करते हुए कहा कि नोटबंदी एक प्रशंसनीय काम था और लोगों को इससे सिस्टम पर विश्वास बढ़ा है। कर्नाटक में अगले साल की शुरुआत में ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। यह समारोह उसी की तैयारी के सिलसिले में आयोजित किया गया था। भाजपा वि.प. की छह सीटों के प्रत्याशियों के नाम पहले ही घोषित कर चुकी है।

अब राज्य के अभयारण्यों में घूमना महंगा
मैसूरु. राज्य के वन विभाग ने प्रदेश के सभी अभयारण्यों में प्रवेश और सफारी करने का शुल्क बढ़ा दिया है। कुछ जगहों पर यह शुल्क तो करीब पांच गुना अधिक कर दिया गया है। अधिकारियों के अनुसार बंडीपुर, नागरहोले, काली, भद्रा और बीआरटी बांघ संरक्षण क्षेत्र और अभयारण्यों में भारतीयों के लिए शुल्क २५० और विदेशियों के लिए १५०० रुपए निर्धारित की गई है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार बंडीपुर में बस से सफर करने का सितम्बर तक यह शुल्क केलव ५० रुपए था, लेकिन अब २५० रुपए कर दिया गया है।


फोटो खींचना भी पड़ेगा महंगा
अभ्यारणों में ५०० एमएम तक के कैमरे ले जाने पर कोई अलग से शुल्क नहीं लिया जाता था, लेकिन नए नियम के अनुसार ७० एमएम से २०० एमएम कैमरे के लिए २०० रुपए, वहीं २०० से अधिक लेंस वाले कैमरे के लिए १००० रुपए तक लिया जाएगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned