नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में प्रस्ताव

जट सत्र के दौरान सत्तासीन भाजपा विधान मंडल के दोनों सदनों में नागरिकता संशोधित कानून (सीएए) के समर्थन में प्रस्ताव लाने के फिराक में हैै।बताया जा रहा है सदन की कार्यसूची के अनुसार दौरान मंगलवार तथा बुधवार को संविधान पर केंद्रीत बहस होगी।इस दौरान ही सीएए के समर्थन का प्रस्ताव लाने की संभावना है।

By: Sanjay Kulkarni

Updated: 01 Mar 2020, 09:34 PM IST

बेंगलूरु. सदन की कार्यसूची के अनुसार दौरान मंगलवार तथा बुधवार को संविधान पर केंद्रीत बहस होगी।इस दौरान ही सीएए के समर्थन का प्रस्ताव लाने की संभावना है। हालांकी संसद की ओर से पारित किए गए इस कानून के पक्ष में या विरोध में विधानसभा तथा विधान परिषदों में पारित किया गया प्रस्ताव कोई मायने नहीं रखता है।लेकिन ऐसा प्रस्ताव लाकर इस मामले को लेकर विपक्ष की घेराबंदी करना सत्तासीन भाजपा का लक्ष्य है।इससे पहले भी देश के केरल, तेलंगाणा गुजरात समेत कई राज्यों की विधानसभाओं इस कानून के पक्ष में तथा विरोध प्रस्ताव पारित किए जा चूके है।
मंगलवार तथा बुधवार को सदन में उपस्थित रहने के लिए भाजपा की ओर से व्हिप जारी किया गया है।सत्तासीन भाजपा विधानमंडल के दोनों सदनों में यह प्रस्ताव पारित कर केंद्र सरकार के इस फैसले के समर्थन का संदेश देना चाहती है।इस प्रस्ताव पर बहस के माध्यम से सत्तासीन भाजपा इस कानून को लेकर विपक्ष की ओर से फैलाई जा रही कई भ्रांतियों को दूर करने का प्रयास करेगी। हालांकी सत्तासीन भाजपा के इस प्रस्ताव का विपक्ष कांग्रेस तथा जनता दल (एस) की ओर से पूरजोर विरोध की संभावना है।

CAA
Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned