Political crisis: सीएम हटेंगे तो बचेगी सरकार

  • वेणुगोपाल ने कांग्रेस और जद-एस नेताओं के साथ विस्तारपूर्वक चर्चा की
  • अटकलों, चर्चाओं व बैठकों का दौर
  • आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति चरम पर
  • सिद्धरामय्या को मुख्यमंत्री बनाने पर चर्चा

By: Santosh kumar Pandey

Published: 07 Jul 2019, 04:47 PM IST

बेंगलूरु. काग्रेस व जद-एस के 13 विधायकों के त्यागपत्र देने के कारण संकट में घिरी १3 माह पुरानी मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार को पतन से बचाने के लिए दोनों ही दलों के नेता अब कुमारस्वामी के नेतृत्व को बदलने की संभावनाओं पर विचार कर रहे हैं।

कांग्रेस आलाकमान के निर्देश पर संकट मोचक की भूमिका निभाने बेंगलूरु पहुंचे कांग्रेस महासचिव व प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी के.सी. वेणुगोपाल ने कांग्रेस व जद-एस के नेताओं के साथ इस मसले पर विस्तार से चर्चा की। दिल्ली से बेंगलूरु पहुंचते ही उन्होंने जद-एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष एच.डी. देवगौड़ा से उनके निवास पर जाकर भेंट की और संकट को सुलझाने के लिए उनसे सुझाव मांगे। सूत्रों का कहना है कि बातचीत के दौरान उन्होंने देवगौड़ा से पूछा कि क्या कुमारस्वामी के नेतृत्व को बदल देने से सरकार बच सकती है?

उन्होंने प्रस्ताव किया कि आपकी सहमति से हम कांग्रेस के एक नेता को मुख्यमंत्री बना सकते हैं और एच.डी. रेवण्णा उप मुख्यमंत्री के तौर पर काम कर सकते हैं। इसी तरह सत्ता से हटने वाले कुमारस्वामी को समन्वय समिति की अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

बातचीत के दौरान सिद्धरामय्या को मुख्यमंत्री बनाने पर चर्चा हुई लेकिन इस पर देवगौड़ा व कुमारस्वामी के सहमत होने की संभावना न के बराबर है।

सूत्रों ने यह भी कहा कि कांग्रेस दलित नेता मल्लिकार्जुन खरगे या जी. परमेश्वर में से किसी एक को मुख्यमंत्री बनाकर असंतोष को दबाने के बारे में भी विचार कर रही है। पार्टी का यह मानना है कि दलित नेता का विरोध करने से डरने वाले कांग्रेस के कुछ विधायक इस्तीफा देने के अपने निर्णय से पीछे भी हट सकते हैं।

इतना ही नहीं, पार्टी का यह भी मानना है कि भाजपा भी किसी दलित को मुख्यमंत्री बनाने का विरोध करने से कतराएगी। विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार के विधायकों के त्यागपत्र मंजूर करने से पहले कांग्रेस किसी न किसी नतीजे पर पहुंच जाएगी।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned