टीपू जयंती के बाद अब बहमनी उत्सव पर गरमाई राजनीति

टीपू जयंती के बाद अब बहमनी उत्सव पर गरमाई राजनीति

Shankar Sharma | Publish: Feb, 15 2018 10:32:26 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

टीपू जयंती के बाद अब राज्य सरकार ने अगले माह बहमनी सुल्तान जयंती उत्सव मनाने का फैसला किया है।

बेंगलूरु. टीपू जयंती के बाद अब राज्य सरकार ने अगले माह बहमनी सुल्तान जयंती उत्सव मनाने का फैसला किया है।
कलबुर्गी जिला प्रशासन के सूत्रों के मुताबिक 4-5 मार्च को मुलखेड में राष्ट्रकूट उत्सव तथा 6 मार्च को गुलबर्गा के कोटे मैदान में यह उत्सव आयोजित होगा। इसके लिए कन्नड़ तथा संस्कृति विभाग ने 30 लाख रुपए का अनुदान जारी किया है। इस बीच, जिला प्रभारी मंत्री डॉ शरण प्रकाश पाटिल ने कहा कि मामले को राजनीतिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए जबकि मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने कहा कि उन्हें बहमनी उत्सव के आयोजन के बारे में कोई जानकारी नहीं है।


भाजपा ने किया विरोध का ऐलान
भाजपा ने उत्सव के आयोजन का विरोध करने की घोषणा की है। पार्टी की प्रदेश महासचिव शोभा करंदलाजे ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए अल्पसंख्यक समुदाय को खुश करने के लिए कलबुर्गी में 6 मार्च को आयोजित बहमनी सुल्तान जयंती कार्यक्रम का भाजपा पुरजोर विरोध करेगी।


उन्होंने कहा कि इससे पहले टीपू सुल्तान की जयंती का आयोजन कर राज्य सरकार ने कोडुगू तथा तटीय कर्नाटक के जिलों में सांप्रदायिक उन्माद फैलाया था। अब विजयनगर साम्राज्य को तहस-नहस करने वाले बहमनी सुल्तान जयंती का आयोजन कर राज्य सरकार हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र में केवल वोट बैंक की राजनीति के लिए इसका आयोजन कर रही है। भाजपा इस आयोजन का पुरजोर विरोध करेगी।


तटीय कर्नाटक में सुरक्षा यात्रा
उन्होंने कहा कि राज्य में शांति सुरक्षा के संदेश के साथ भाजपा युवा मोर्चा इकाई 3 से 6 मार्च तक तटीय कर्नाटक के जिलों में सुरक्षा यात्रा निकालेगी। मडिकेरी से शुरू होने वाली इस यात्रा का उद्घाटन केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा करेंगे इस यात्रा का नेतृत्व मैसूर-मडिकेरी क्षेत्र के सांसद प्रताप सिम्हा करेंगे।

अंकोला से शुरू होने वाली यात्रा का उद्घाटन केंद्रीय संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार करेंगे। इस यात्रा का नेतृत्व केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े करेंगे। दोनों यात्राओं का 6 मार्च को सुरतकल में रैली के साथ समापन होगा। रैली में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ प्रमुख वक्ता होंगे।

Ad Block is Banned