उत्तर तथा कल्याण-कर्नाटक में बारिश से तबाही

50 क्षेत्रों में रेकॉर्ड बारिश, खड़ी फसलें जलमग्न

By: Sanjay Kulkarni

Published: 16 Oct 2020, 08:51 AM IST

बेंगलूरु. बंगाल की खाड़ी पर हवा के कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण कल्याण-कर्नाटक के बीदर, कलबुर्गी, यादगिर, कोप्पल, बल्लारी तथा रायचूर जिलों में बारिश ने तबाही मचा दी है। बारिश के कारण जानमाल को नुकसान पहुंच रहा है और इन जिलों में रेड अलर्ट घोषित किया गया है। आवासीय क्षेत्रों में पानी घुसने के कारण लोगों को सुरक्षित क्षेत्रों में पहुंचाया जा रहा है। पुल तथा सड़के क्षतिग्रस्त होने के कारण सैकड़ों गांवों का संपर्क टूट गया है।

उत्तर कर्नाटक के बेलगावी जिले में भी भारी बारिश हो रही है और नदियों का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है।रायचूरु जिले के अलमट्टी तथा नारायणपुरा बांध का जलस्तर बढऩे के कारण बांध से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है। नारायणपुरा बांध से गुरुवार को सुबह 1 लाख 61 हजार क्यूसेक और अलमट्टी बांध से 70 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। कृष्णा तथा भीमा नदियां उफान पर हंै। रायचूर जिले के लिंगसगुरु, देवदुर्ग तथा रायचूर तहसील के कई गांवों में बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं।

कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र के अनुसार कोप्पल जिले में 2 हजार 275 हेक्टेयर में फसलें तहस-नहस हो गई हंै। कपास, मक्का, तथा धान की फसल को भी भारी नुकसान हुआ है। बेलगावी, विजयपुर, बागलकोट, कलबुर्गी, बीदर, यादगिरी, रायचूर तथा कोप्पल जिलों में 3 हजार से अधिक मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। कलबुर्गी जिले की कागिणा नदी उफान पर है। सेडम तहसील के मुलखेड स्थित मोरारजी देसाई आवासीय स्कूल में फंसे छह कर्मचारियों को राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के जवानों ने सुरक्षित निकाला है।

महाराष्ट्र के उजनी बांध से बड़े पैमाने पर पानी छोड़े जाने के कारण अफजलपुर, जेवरगी, चित्तापुर तहसीलों के कई गांवों में पानी घुसने से गांव वासी गांव छोडऩे पर मजबूर हो गए हंै। जिला प्रशासन ने दो दिन पहले ही इन गांव वालों को चेतावनी दे दी थी। उत्तर कन्नड़ जिले के कारवार में केवल तीन घंटे में 92 एमएम बारिश दर्ज हुई है।

दक्षिण कन्नड़ तथा उडुपी जिलों में लगातार बारिश हो रही है। जिसके कारण खेतों में खड़ी फसलें डूब गई हैं। सुपारी तथा रबर प्लांटेशन को भारी नुकसान पहुंचा है। मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा तथा राजस्व मंत्री आर.अशोक शुक्रवार को कल्याण-कर्नाटक, उत्तर-कर्नाटक तथा तटीय कर्नाटक के 11 जिलों के जिला उपायुक्तों के साथ विडियो कान्फ्रेंस कर हालात की समीक्षा करेंगे।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned