हिंदी राष्ट्र की आत्मा है और देशवासियों की वाणी

हिंदी राष्ट्र की आत्मा है और देशवासियों की वाणी

Ram Naresh Gautam | Publish: Sep, 16 2018 07:10:45 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

समारोह की अध्यक्षता एनआइसी केंद्र के प्रमुख राज्य सूचना विज्ञान अधिकारी बी. विनया ने की

बेंगलूरु. राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र, कर्नाटक राज्य इकाई, बेंगलूरु इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र में हिंदी दिवस समारोह आयोजित किया गया। समारोह की अध्यक्षता एनआइसी केंद्र के प्रमुख राज्य सूचना विज्ञान अधिकारी बी. विनया ने की। मुख्य वक्ता एएलआरडीइ डीआरडीओ के अनुवाद विशेषज्ञ डॉ रंजीत कुमार ने अधिकारियों एवं कर्मचारियों से राजभाषा हिंदी के महत्व, उपयोगिता एवं कार्यान्वयन पर चर्चा करते हुए कहा कि हिंदी देश की आत्मा है और राष्ट्र की वाणी है।

हिंदी भारत की ही नहीं बल्कि विश्व की प्रसिद्ध मधुर, सरल एवं वैज्ञानिक भाषा है जिसे अभिरुचिए अध्ययन, अभ्यास, अनुकरण, अनुप्रयोग, अभिव्यक्ति, अनुशासन द्वारा सरलता से सीखा जाता है। डॉ रंजीत कुमार ने पॉवर प्वाइंट प्रजेंटेशन द्वारा हिंदी एवं डिजिटल इंडिया के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि इंटरनेट एवं यूनिकोड ने हिंदी पत्राचार और प्रचार को आसान बना दिया है। हिंदी दिवस समारोह से कर्नाटक के अन्य जिला केंद्र भी वीडियो कॉन्फ्रेसिंग नेटवर्क से जुड़े हुए थे।

अन्य केंद्र के अधिकारी एवं कर्मचारी भी राजभाषा विषय के संबंघ में डॉ रंजीत कुमार से प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम में परामर्श ले रहे थे। कर्नाटक राज्य के सूचना विज्ञान अधिकारी ने मुख्य अतिथि डॉ रंजीत कुमार को पुष्प गुच्छ एवं फल प्रदान कर, शाल ओढ़ाकर और स्मृति चिह्न प्रदान कर सम्मानित किया। हिंदी दिवस के संयोजक तकनीकी निदेशक श्रीकुमार, नॉडल अधिकारी, राजभाषा समिति ने हिंदी पखवाड़ा की जानकारी दी। सुरेश मेती ने धन्यवाद दिया।

 

बीएचइएल में इ-पत्रिका का विमोचन
बेंगलूरु. भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (बीएचइएल) के मल्लेश्वरम कांप्लेक्स स्थित इण्डस्ट्रियल सिस्टम्स गु्रप (आईएसजी) तथा इलेक्ट्रोपोर्सलेन्स डिविजन (ईपीडी) द्वारा शुक्रवार को हिंदी दिवस समारोह आयोजित किया गया। महाप्रबंधक प्रभारी (आइएसजी) शकील कुमार मनोचा ने समारोह की अध्यक्षता की। मुख्य अतिथि के रूप में दक्षिण भारत हिंदी प्रचार सभा के प्राचार्य डॉ. इस्पाक अली उपस्थित हुए। अपर महाप्रबंधक वाणिज्य एवं विपणन (ईपीडी) एस. मजूमदार सहित कई अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण तथा कर्मचारियों ने भाग लिया।

बीकेआर पटनायक, अपर महाप्रबंधक (मा.सं.)-आईएसजी द्वारा राजभाषा शपथ दिलायी गई। 'हिंदी दिवसÓ के अवसर पर, आईएसजी की वार्षिक ई-पत्रिका सूर्य किरण तथा ईपीडी की वार्षिक ई-पत्रिका भेल दर्पण का विमोचन किया गया। हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में विभिन्न हिंदी कार्यक्रमों तथा प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया और विजेताओं को पुरस्कृत किया गया।

Ad Block is Banned