बंडीपुर टाइगर रिजर्व के आसपास अवैध निजी मकान व रेजॉर्ट का धड़ल्ले से निर्माण जारी

- फील्ड निदेशक ने जिला उपायुक्त से की कार्रवाई की मांग

By: Nikhil Kumar

Published: 22 May 2020, 11:01 PM IST

बेंगलूरु. पर्यावरण संवेदनशील क्षेत्र होने के बावजूद बंडीपुर टाइगर रिजर्व (बीटीआर) के आसपास अवैध होम स्टे, निजी मकानों व रेजॉर्ट का निर्माण धड़ल्ले से जारी है। इससे वन्यजीव संरक्षण अभियानों को धक्का लगा है। बीटीआर के फील्ड निदेशक टी. बालचंद्र ने चामराजनगर जिला उपायुक्त से शिकायत कर कार्रवाई की मांग के साथ इन अवैध निर्माणों को जल्द से जल्द हटाने की अपील की है।

वन्यजीव कार्यकर्ता जोसेफ हूवर ने बताया कि उन्होंने भी अधिकारियों से कई बार इसकी शिकायत की है। अब तक कार्रवाई नहीं हुई है। बड़ी संख्या में बन रहे इन मकानों व रेजॉर्ट के कारण इलाके में पानी की भारी किल्लत है। निर्माण कार्य के कारण वाहनों की आवाजाही भी बढ़ी है। लोगों ने स्विमिंग पूल तक बना रखा है। बीटीआर के आसपास पहले से ही कई होम स्टे और रेजॉर्ट हैं। ९१२ वर्ग किमी में फैला बीटीआर १५० से ज्यादा बाघों व करीब १६०० हाथियों का घर है।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned