जेएटीफ बलदोटा होस्टल तथा जेेएटीफ बीपी बोहरा ट्रेनिंग सेंटर का उदघाटन 10 को

जीतो बेंगलूरु का प्रयास

By: Yogesh Sharma

Updated: 08 Oct 2021, 09:48 AM IST

बेंगलूरु. जीतो बेंगलूरु सामाजिक सरोकारों की दिशा मेंं निरंतर प्रयासरत है। इसी क्रम में रविवार को लालबाग रोड स्थित गोडवाड़ भवन के पास जेएटीएफ बलदोटा गल्र्स होस्टल तथा बनरघट्टा रोड स्थित एनएस पाल्या में जेएटीफ बीपी बोहरा एजुकेशन फाउंडेशन का उद्घाटन किया जाएगा।
गल्र्स होस्टल योजना के अध्यक्ष प्रकाशचंद सिंघवी ने बताया कि पिछले 10 वर्षों से लडक़ों के होस्टल के सफल संचालन बाद परिस्थितिक जरूरतों को समझते हुए जीतो बेंगलूरु ने जीतो के अग्रणियों के साथ बैठकर गल्र्स होस्टल का जिम्मा उठाया, जिसे पूर्ण करने में दानदाताओं के साथ मुख्य सहयोगी होसपेट के नरेंद्र कुमार बलदोटा का महत्वपूर्ण सहयोग रहा। उन्होंने बताया कि इस योजना का सकारात्मक पहलु यह रहा कि उद्घाटन के पूर्व ही लगभग होस्टल की क्षमता जितने आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि दीर्घकालिक लाभ देने वाली योजना से जुडक़र अपने-आप को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं।

जीतो एपेक्स के पूर्व चेयरमेन तेजराज गुलेच्छा ने कहा कि बढ़ते जनसंख्या घनत्व की कारण बेंगलूरु में महंगाई व असुरक्षा की भावना बढ़ती जा रही है, ऐसे में विशेषकर लड़कियों का यहां आकर पढऩा व रोजगार करना एक सपना सा प्रतीत होता है। शिक्षा, चिकित्सा एवं रोजगार में देश में अग्रणी बेंगलूरु में अन्य शहरों व कस्बों से आकर सुरक्षा व घर जैसे माहोल के साथ अपने सपने को साकार करने में ये गल्र्स होस्टल सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि समाज के होनहार जरूरतमंद विद्यार्थियों को प्रशिक्षण दिलाकर देश के सर्वोच्च प्रशासनिक पदों पर पहुंचाने का कार्य जीतो निरंतर करता आ रहा है, जीतो बेंगलूरु भी बीपी बोहरा एजुकेशन केंद्र के माध्यम से उस ओर कदम बढ़ा रहा है।
जीतो बेंगलूरु के अध्यक्ष अशोक नागोरी ने बताया कि जिस तरह से पहले से जीतो की योजनाएं सेवा के शिखर को छूती आई हैं। उसी तरह से दीर्घकालिक लाभ देने वाली ये दोनो योजनाएं भी सफलता के सभी मापदंडों को पार करेंगी। गल्र्स होस्टल लड़कियों के लिए सुरक्षा भावना तथा जेनेत्तर परम्पराओं का धोत्तक बनेगा तो ट्रेनिंग सेंटर से प्रशिक्षित बच्चे देश के भविष्य निर्माता बनेंगे।
गल्र्स होस्टल निर्माण समिति के अध्यक्ष दिलीप कोठारी तथा वास्तुकार अरविंद जैन के अनुसार होस्टल निर्माण में जरूरत की सारी सुविधाओं के साथ-साथ तकनीकी जरूरतों की उपलब्धता का भी पूरा ध्यान रखा गया है। मसलन अन्य सुविधाओं के साथ-साथ आर्ट गैलेरी, वेस्ट मैनेजमेंट, पुस्तकालय व शुद्ध जैन भोजन की सुविधा भी उपलब्ध रहेगी। निर्माण कार्य समिति कोषाध्यक्ष महावीर ओस्तवाल व सह-कोषाध्यक्ष नरेश निबजिया का सहयोग भी सराहनीय रहा।
जीतो बेंगलूरु के महामंत्री महेश नाहर ने बताया कि गल्र्स होस्टल के साथ-साथ इसी मुहूर्त में अन्य दानदाताओ के साथ मुख्य प्रायोजक इंदरचंद-रमेशचंद-मंगलचंद बोहरा के सहयोग से बनरघट्टा स्थित एनएस पाल्या में जेएटीफा बीपी बोहरा एजुकेशन फाउंडेशन का उद्घाटन होगा। जिसमें नियमानुसार प्रवेश लेने वाले छात्रों को देश की सर्वोच्च सिविल परीक्षा की तैयारी के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा।
एपेक्स जेएटीएफ के उपाध्यक्ष प्रमोद भंडारी तथा केकेजी जोन जेएटीएफ अध्यक्ष विक्रम करबवाला ने बताया कि जेएटीफ बीपी बोहरा एजुकेशन सेंटर में विद्यार्थियों के लिए फिजिकल व वर्चुअल क्लासरूम, यूपीएससी परीक्षा से जुड़ी पुस्तकें, पढ़ाई के सारे साजो-सामान, अत्याधुनिक पुस्तकालय, पर्यावरण के अनुकूल सुविधाएं, परिचर्चा व पढ़ाई के लिए अलग से लाउंज एवं कमरे, शारीरिक प्रशिक्षण सुविधा, योग एवं मेडिटेशन रूम, शुद्ध जैन भोजन के साथ-साथ जरूरत की अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध रहेंगी।
जीतो बेंगलूरु के मीडिया प्रभारी सिद्धार्थ बोहरा ने बताया कि दोनों उद्घाटनों में दानदाताओं के साथ जीतो एपेक्स के वर्तमान व पूर्व पदाधिकारी, जेएटीएफ के एपेक्स व जोन पदाधिकारी, एपेक्स श्रमण आरोग्यम पदाधिकारी, केकेजी जोन पदाधिकारी, जीतो बेंगलूरु पदाधिकारी, दोनों योजनाओं के समिति सदस्य, जीतो बेंगलूरु के कार्यकारिणी सदस्य एवं जीतो सदस्यों के साथ-साथ राजनीतिज्ञ भी हिस्सा लेंगे।

जेएटीफ बलदोटा होस्टल तथा जेेएटीफ बीपी बोहरा ट्रेनिंग सेंटर का उदघाटन 10 को
Yogesh Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned