मेट्रो संरक्षा आयुक्त ने किया निरीक्षण

मेट्रो संरक्षा आयुक्त ने किया निरीक्षण

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Apr, 21 2018 06:31:32 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

पहली छह कोच वाली मेट्रो चलाने की कवायद शुरू

बेंगलूरु. मेट्रो रेल संरक्षा आयुक्त (सीएमआरएस) ने गुरुवार को सर एम विश्वेसरैया और बैय्यप्पनहल्ली मेट्रो स्टेशन के बीच मेट्रो के पहले छह कोच वाली ट्रेन के परिचालन का परीक्षण किया। इस ट्रेन को जल्द जनता के लिए चलाया जाना है।

सीएमआरएस का निरीक्षण गुरुवार सुबह 10:30 बजे शुरू हुआ। उन्होंने कोच और अन्य फिटिंग की संरचनाओं को देखा। कुछ परीक्षण आयोजित किए गए। बीएमआरसीएल के प्रबंध निदेशक महेंद्र जैन ने कहा कि यह केवल एक प्रारंभिक परीक्षण है। जल्द ही छह कार कोच के लॉन्च की संभावना के बारे में पूछे जाने पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

जैन ने कहा कि इलेक्ट्रो चुंबकीय संगतता (ईएमसी) परीक्षण अभी किए जाने हैं, इसमें समय लग सकता है। उन्होंने बताया कि जल्द ही अंतरराष्ट्रीय पर्यवेक्षक समूचे परीक्षण का मूल्यांकन करेंगे। ट्रेन चलने पर यात्रियों द्वारा ट्रेन से उत्सर्जित विद्युत चुंबकीय तरंगों के असर का मूल्यांकन भी किया जाएगा। साथ ही यह भी देखा जाएगा कि जिन यात्रियों को पेसमेकर लगे हैं, उन्हें ये तरंगें प्रभवित तो नहीं कर रही हैं।

---------------

महिला की हत्या कर आभूषण लूटे
बेंगलूरु. चिकजाला पुलिस थानांतर्गत किसी ने एक महिला की हत्या कर उसके आभूषण लूट लिए।
पुलिस के अनुसार हुणिसेमारानाहल्ली में भारती नगर निवासी चंद्रकला (35) घरेलू काम में व्यस्त थीं। उनका पति काम पर और दो बच्चे करीब ही नानी के घर गए हुए थे। शुक्रवार दोपहर चंद्रकला की मां श्यामला उनके घर पहुंची तो हत्या का पता चला। किसी ने चंद्रकला का गला काट कर उसका मंगलसूत्र, सोने की चूडिय़ां और कानों की बालियां निकाल ली थीं। सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पहुंची। पुलिस हत्या का मामला दर्ज कर जांच कर रही है।

---------------

मुख्यमंत्री की परिसंपत्तियों में 6 करोड़ की वृद्धि
पत्नी की आय भी दोगुनी हुई
बेंगलूरु. चामुंडेश्वरी विधानसभा क्षेत्र से शुक्रवार को नामांकन दाखिल करने वाले मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या की संपत्ति पिछले पांच वर्ष में 6 करोड़ रुपए बढ़ी जबकि उनकी पत्नी की संपत्ति में दोगुणा बढ़ोतरी हुई है। मुख्यमंत्री ने नामांकन पत्र के साथ दिए शपथपत्र में घोषणा की है कि उनकी परिसंपत्तियां 11 करोड़ रुपए की हैं। वर्ष 2013 की तुलना में इसमें 6 करोड़ की बढ़ोतरी हुई लेकिन देनदारियां भी दोगुनी हो गई। 2013 मेें सिद्धू के पास 5.16 करोड़ और पत्नी के पास 2.75 करोड़ की संपत्ति थी।

सिद्धरामय्या जब नेता प्रतिपक्ष थे तब वर्ष 2013 में नामांकन पत्र दाखिल करते हुए अपनी देनदारियां 1.1 करोड़ रुपए बताई थीं जो कि अब 2.5 करोड़ हो गई हैं। दूसरी ओर उनकी पत्नी की परिसंपत्तियां जो वर्ष 2013 में लगभग 3 करोड़ थीं दो गुणा से अधिक बढ़कर लगभग 7 करोड़ रुपए से अधिक हो गई हैं। पत्नी की देनदारियों में चार गुणा बढ़ोतरी हुई हैं। वर्ष 2013 में उनकी देनदारियां लगभग 50 लाख थीं जो अब 2 करोड़ पहुंच गई हैं। सिद्धरामय्या ने हिंदू अविभाजित परिवार के तौर पर 1.55 करोड़ रुपए की संपत्ति है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned