scriptInterview with New ISRO chairman S. Somnath | सीमित दायरे से निकल बड़ा अंतरिक्ष उद्यम बनने की होगी कोशिश: सोमनाथ | Patrika News

सीमित दायरे से निकल बड़ा अंतरिक्ष उद्यम बनने की होगी कोशिश: सोमनाथ

-देशवासियों को प्रेरित करने की परंपरा को बढ़ाएंगे आगे
-अंतरिक्ष कार्यक्रमों के निर्माणकर्ता बनें निजी क्षेत्र
-नव नियुक्त इसरो अध्यक्ष से बातचीत

बैंगलोर

Published: January 15, 2022 01:36:05 pm

बेंगलूरु.
प्रख्यात रॉकेट विज्ञानी एवं विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (वीएसएससी), तिरुवनंतपुरम के निदेशक रहे एस. सोमनाथ ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के नए अध्यक्ष और अंतरिक्ष विभाग के नए सचिव तौर पर पदभार संभाल लिया। सोमनाथ इसरो के 10 वें अध्यक्ष हैं। निवर्तमान अध्यक्ष के. शिवन ने सोमनाथ को पदभार सौंपा। भारतीय विज्ञान संस्थान (आइआइएससी) बेंगलूरु के पूर्व छात्र सोमनाथ ने देश के दो मुख्य प्रक्षेपण यानों पीएसएलवी और जीएसएलवी के विकास में अहम भूमिका निभाई। उनके ही नेतृत्व में एलएमवी3-एक्स/केयर मिशन को सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में भेजकर वापस बंगाल की खाड़ी में उतारा गया था। क्रायोजेनिक इंजन सीई-20 और सीई-25 के विकास में उनका उल्लेखनीय योगदान रहा है। नए इसरो अध्यक्ष सोमनाथ से 'पत्रिका' ने बातचीत की। पेश है बातचीत के संक्षिप्त अंश:
सीमित दायरे से निकल बड़ा अंतरिक्ष उद्यम बनने की होगी कोशिश: सोमनाथ
सीमित दायरे से निकल बड़ा अंतरिक्ष उद्यम बनने की होगी कोशिश: सोमनाथ
प्रश्न: विक्रम साराभाई, सतीश धवन और प्रोफेसर यूआर राव जैसे वैज्ञानिकों ने जिस संगठन का नेतृत्व किया उसका नेतृत्व अब आप करेंगे। आपकी प्रतिक्रिया?
सोमनाथ: ये महान विभूतियां इसरो की स्तंभ हैं। देशवासियों के लिए वे प्रेरणास्रोत रहे हैं। हम उनपर गर्व करते हैं। मेरा प्रयास होगा कि देशवासियों को प्रेरित करने की उन परंपराओं को आगे बढ़ाएं। अनुप्रयोग (एप्लीकेशन) आधारित अंतरिक्ष कार्यक्रमों का विकास हो। भारत की आम जनता को सबसे महत्वपूर्ण मानकर उनके लिए काम करें। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए मिशन को आगे बढ़ाएं जिसका उद्देश्य अंतरिक्ष कार्यक्रमों को अधिक सक्रिय बनाना तथा अंतरिक्ष का द्वार हर किसी के लिए खोलना है। मेरा प्रयास होगा कि अंतरिक्ष कार्यक्रमों की पहुंच देश के हर हिस्से तक हो। हम अपने कार्य के सीमित दायरे से निकलकर एक बड़ा अंतरिक्ष उद्यम बनें इसकी कोशिश होगी।
प्रश्न: आप ऐसे समय में इसरो का कार्यभार संभाल रहे हैं जब कई नए मिशन, नए कार्यक्रम, नई तकनीकों के विकास पर काम हो रहा है। आपकी प्राथमिकताएं क्या होंगी?
सोमनाथ: मुझे इसकी योजना बनानी होगी। मुझे नएपोजिशन में अपनी टीम के साथ काम करने का थोड़ा समय चाहिए। मैं समीक्षा करूंगा और यह यह जानने की कोशिश करूंगा कि पूरा सिस्टम किस तरह सोच रहा है। तमाम पहलुओं पर गौर करने और समझने के बाद जल्द ही प्राथमिकताएं तय कर लेंगे।
अंतरिक्ष निजी उद्योगों को काफी बढ़ावा दिया जा रहा है? निजी क्षेत्र से क्या उम्मीदें हैं और इसरो की क्या जिम्मेदारी होगी?
सोमनाथ: हम उम्मीद करते हैं कि निजी क्षेत्र अंतरिक्ष कार्यक्रमों के निर्माणकर्ता बनें। सिर्फ जो मिल रहा है उससे संतुष्ट ना हो जाएं। नए आइडिया लेकर आएं। नए इनोवेेशन लाएं और अपने अंतरिक्ष कार्यक्रमों से अंतर पैदा करें। तभी भविष्य में वित्तीय रूप से व्यवहारिक बनेंगे और जिस माहौल में काम करना चाहते हैं वैसा माहौल बन पाएगा। इसरो पर निर्भर रहने के बजाय अपने अंतरिक्ष कार्यक्रमों से रोजगार पैदा करें। उन्हें अंतरिक्ष के क्षेत्र में निवेश करना होगा। इसरो की जिम्मेदारी यह होगी हम उनके लिए एक अच्छा माहौल बनाएं ताकि वे अपना योगदान बेहतर ढंग से कर सकें।
प्रश्न: पिछले दिनों में काफी कम मिशन लांच हुए हैं? गतिविधियां काफी कम रही हैं? उन्हें फिर से शुरू करना होगा?
सोमनाथ: नहीं..नहीं। फिर से शुरू करने जैसी कोई बात नहीं है। सबकुछ ठीक है। विभिन्न कारणों से मिशन लांच नहीं हो पा रहे हैं। उनपर ध्यान देना होगा। जरूरी सुधार के बाद उन्हें जारी रखेंगे। तमाम मिशनों और परियोजनाओं के लिए हमने पहले से ही हर जगह आवश्यक बुनियादी ढांचे और मैकेनिज्म तैयार किए हैं। सभी अंशधारकों से बात कर उन्हें आगे बढ़ाएंगे। यहीं आवश्यक है। बाकी कोई मुद्दा नहीं है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

2 बच्चों के पिता और 47 साल के मर्द पर फ़िदा है ‘पुष्पा’ की 25 साल की एक्ट्रेस, जाने कौन है वोMaruti Brezza CNG इस महीने होगी लॉन्च, नए नाम के साथ मिलेगा 26Km से ज्यादा का माइलेज़100-100 बोरी धान लेकर पहुंचे थे 2 किसान, देखते ही कलक्टर ने तहसीलदार से कहा- जब्त करोNew Maruti Wagon R : अनोखे अंदाज में आ रही है आपकी फेवरेट कार, फीचर्स होंगे ख़ास और मिलेगा 32Km का माइलेज़इन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राजअपने लव पार्टनर को कंट्रोल में रखती हैं इन 4 राशियों की लड़कियां, खूब चलाती हैं हुकुमइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीTodays Horoscope- 29 january 2022: तुला राशि को नौकरी में पदोन्नति संभव

बड़ी खबरें

रीट पेपर लीक होने से पहले बाजार में लगी थी बोली, मिला उसे जिसने लगाए सबसे ऊंचे दामसपा ने जारी किया 10 सूत्रीय संकल्प पत्र, सत्ता में आए तो किसानों को ब्याज कर्ज मुक्त, दोबारा शुरू होगी समाजवादी पेंशन योजनाCorona cases in india: पिछले 24 घंटे में कोरोना के 2.35 लाख केस, 871 की मौत, संक्रमण दर हुई 13.39%रीट पेपर लीक मामलाः डीपी जारोली पर गिरी गाज, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से किया बर्खास्तBudget 2022: टीनएजर्स को आसान भाषा में इस तरह समझाएं बजटPunjab Election 2022: कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्व अमृतसर से भरा नामांकन, जानिए किससे है टक्करवैज्ञानिकों ने दी चेतावनी चमगादड़ों में पाया जाने वाला NeoCov कोरोनावायरस बन सकता है इंसानों के लिए खतराPunjab Election 2022: कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्व अमृतसर से भरा नामांकन, जानिए किससे है टक्कर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.